‘इबादत’ और ‘बागली टॉकीज’ का प्रदर्शन

0

इंदौर के संतोष सभाग्रह में 10 दिसम्बर को दो शॉर्ट फिल्म ‘इबादत’ और ‘बागली टॉकीज’ का प्रदर्शन किया गया| दोनों फिल्मों का निर्देशन देवास के ‘अनिरुद्ध शर्मा’ ने किया है| दोनों फिल्में आज के समाज के ज्वलंत मुद्दों को उठाती हैं, जिन पर ध्यान दिया जाना अत्यंत आवश्यक है|फिल्म ‘इबादत’ उस अवस्था को दर्शाती की जो धर्म के भी आगे की है, जिसे समाधि कहा जाता है|

इस कार्यक्रम के दौरान निर्देशक ने बताया है कि ज्ञान की प्राप्ति किसी धर्म विशेष से सम्बद्ध नहीं है, वह अवस्था कभी भी कहीं भी प्राप्त हो सकती है, यदि आपके अंदर वह शांति पैदा हो जाए| फिल्म के नायक को जब वह अवस्था एक मंदिर के बाहर प्राप्त हो जाती है तो दोनों समुदायों के कर्मकांडी लोगों में खलबली मच जाती है| फिल्म अपना संदेश बहुत ही कम संवादों में सिर्फ बिंबों के सहारे देती है|

दूसरी फिल्म बागली टॉकीज वर्तमान में एकल स्क्रीन सिनेमाघरों की दुर्दशा का बहुत ही मार्मिक चित्रण करती है, जिसमें एक सिनेमा घर के मालिक का अपने सिनेमा घर के लिए प्यार दिखाया गया है| फिल्म हाल ही में ‘जयपुर अंतराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल’ में चयनित हुई है|

फिल्म के निर्देशक अनिरुद्ध शर्मा ने आगे कहा, ‘जयपुर अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल’ में चयनित हो गई है, लेकिन आप सभी की तारीफों से हमें हमारा अवार्ड मिल चुका| आज इस फिल्म को दिखने का सिर्फ यही उद्देश्य नहीं है कि मुझे अपनी फिल्म दिखानी है, बल्कि मैं चाहता हूँ कि एक जागरूकता पैदा होनी चाहिए| आम आदमी में इस बात की कि फिल्म बड़े परदे पर देखी  जानी चाहिए|

निर्देशक ने अंत में सबका आभार माना और ये बताया कि उन्होने अपनी बड़ी फिल्म की स्क्रिप्ट पूरी लिख ली है और उसके लिए निर्माता की तलाश है| फिल्म की मुख्य भूमिका में संजय मिश्रा होंगे, जो आज के दौर के सशक्त अभिनेता हैं और दर्शकों में लोकप्रिय भी हैं| फिल्म का बजट कम से कम 1 से 2 करोड़ होगा|

प्रेषक – नितिन गुप्ता बरोठा 

Video : इंदौर के खजूरी बाज़ार में आग…

हार के बाद बोले- कांग्रेस प्रत्याशी अश्विन जोशी

Indore Election Result 2018 Live : पाएं हर पल की अपडेट : इंदौर में 5:4 का अनुपात

Share.