ये 2 नियम बदल दो, न्यूजीलैंड बन जाएगा विश्व विजेता

0

14 जुलाई को विश्व कप 2019 का फाइनल मुकाबला इंग्लैंड और न्यूजीलैंड (World Cup 2019 Final) के बीच खेला गया| इस मुकाबले में इंग्लैंड की टीम ने बेहद ही रोमांचक जीत दर्ज की और विश्व विजेता का खिताब अपने नाम किया| इस मुकाबले को क्रिकेट इतिहास का यह सबसे रोमांचक मुकाबला कहा जा सकता है| इस मैच को जीतकर इंग्लैंड ने विश्व कप तो उठाया, लेकिन यह विश्व कप न्यूजीलैंड का था| देखा जाए तो नियमों के दम पर इंग्लैंड विश्व विजेता बना है, यदि मैच पर लागू कुछ नियमों को बदल दिया जाए तो न्यूजीलैंड 2019 विश्व कप का विजेता बन जाएगा|

हार के बाद बोले विलियमसन, बताया इस गेंद की वजह से हारे मैच

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने निर्धारित 50 ओवर में 241 रन बनाए| इसके जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम भी 50 ओवर में 241 रन बना पाई| मैच टाई होने की वजह से मुकाबला सुपर ओवर में पहुंच गया| सुपर ओवर में इंग्लैंड की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 15 रन बनाए और न्यूजीलैंड को जीत के लिए 16 रनों का लक्ष्य दिया|

न्यूजीलैंड ने भी सुपर ओवर में 15 रन बनाए और सुपर ओवर भी टाई हो गया| लेकिन बाउंड्री के आधार पर इस मुकाबले को इंग्लैंड ने अपने नाम कर लिया| बता दें कि इस मुकाबले में इंग्लैंड ने 24 बाउंड्री लगाई, जबकि न्यूजीलैंड टीम 16 बाउंड्री लगा पाई| इस आधार पर इंग्लैंड को विश्व विजेता घोषित कर दिया गया|

विश्व विजेता पर होगी पैसों के बारिश

ऐसा होता तो न्यूजीलैंड होता विश्व विजेता

यदि सुपर ओवर में बाउंड्री की जगह विकेट के आधार पर विजेता घोषित किया जाता तो न्यूजीलैंड की टीम इस विश्व कप को अपने नाम कर लेती| बता दें कि, न्यूजीलैंड की टीम ने निर्धारित 50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 241 रन बनाए थे, जबकि इंग्लैंड 241 रनों पर ऑल आउट हो गई थी| न्यूजीलैंड के 2 विकेट शेष थे, जिसके आधार पर न्यूजीलैंड को जीत दे दी जाती|

ओवरथ्रो के 4 रन

फाइनल के आखिरी ओवर में जब इंग्लैंड को 3 गेंदों में 9 रन की जरूरत थी, तो बेन स्टोक्स ने ट्रेंट बोल्ट की फुल टॉस गेंद को डीप मिडविकेट की तरफ खेलकर दो रन के लिए भागे, लेकिन स्ट्राइकर एंड की तरफ फेंका गया थ्रो स्टोक्स के बल्ले से टकराकर ओवरथ्रो के लिए बाउंड्री के बाहर चला गया और इंग्लैंड को इस गेंद पर छह रन मिल गए और यही से यह मैच पलट गया| ओवरथ्रो के नियम को बदल कर ऐसा कर दिया जाए कि, यदि थ्रो करने पर गेंद बल्लेबाज या उसके बल्ले से टकराकर बाउंड्री पार जाती है तो उसे बाउंड्री करार ना दी जाए| ऐसा होता तो इंग्लैंड को 2 रन मिलते और जीत के लिए उन्हें 2 गेंदों में 7 रनों का लक्ष्य मिलता और यहां से यह मैच न्यूजीलैंड के पक्ष में आ सकता था|

फाइनल में इस टीम का समर्थन करेंगे भारतीय फैंस…

Share.