website counter widget

विडंबना: टीम इंडिया ‘ओप्पो’ और अफगान ‘अमूल’ के साथ

0

टीम इंडिया ( team india)  ICC Cricket World Cup 2019 में शिरकत करने के लिए ब्रिटैन में है| अब तक सब कुछ ठीक भी है| खेल के इतर बात करें तो BCCI और भारत सरकार के बीच कभी पटरी नहीं बैठी | BCCI सदा से खुद को स्वतंत्र संस्था कहते हुए सरकार को जवाब देने से बचती रही | बीच में कुछ बवाल हुआ भी तो दूसरा रास्ता अपना कर मामला ठंडा कर दिया गया | अब वर्ल्ड कप अफगान के ख़िलाफ़ भी BCCI और टीम इंडिया की एक और कारगुजारी सामने आई |

क्रिकेट लवर्स ने देखा की जहां एक ओर अफगानी टीम की जर्सी पर भारतीय ब्रांड अमूल का लोगो लगा था, वहीं टीम इंडिया हर मौके पर भारत से दुश्मनी निभाने वाले चीन की कंपनी ओप्पो को प्रमोट कर रही है | ज़ाहिर सी बात है अफगान और अमूल का सौदा सस्ते में पटा होगा, वहीँ BCCI ने अमूल के सामने बड़ा मुँह फाड़ा होगा जिसकी पूर्ति ओप्पो कर पाया होगा |

AUS सेमीफाइनल में, अब ये 3 टीम बन सकती हैं सेमीफाइनल का हिस्सा

ऐसे में एक बार फिर यह सवाल उठता है कि क्या ICC की तरह भारत सरकार का भी BCCI पर कोई जोर नहीं| ICC पर भी BCCI के दबाव में फैसले लेने के आरोप लगते रहे है| अब इसे लेकर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई हैं| अपने-अपने तर्क है, और नजरिया है जो कुछ हद तक सही भी है| BCCI इससे पहले भी सरकार के निशाने पर रहा है और अमूल-चूल सख्ती के बाद जैसे-तैसे मामला ठंडा कर दिया गया | सवाल यहाँ ओप्पो की ब्रांडिंग का भी नहीं है , सवाल उसी मनमानी का है जो सरकार और देशहीत को ताक पर रखकर लगातार जारी है| देश में चल रही कोई भी संस्था देश के कानून और सरकार से परे कैसे हो सकती है|

भुवनेश्वर हुए फिट, लेकिन शमी को बाहर करना मुश्किल

कानून का लचीलापन और देश का सबसे बड़ा और धनाढ्य खेल बोर्ड हो जाना भी इसका एक कारण हो सकता है| विश्वकप ( ICC Cricket World Cup 2019) में भारत-पाक मैच खेलने न खेलने के फैसले पर भी BCCI का प्रभाव साफ देखा गया| सरकार ने ICC इवेंट्स के हवाले से मामले को ठंडा किया हालाँकि उसके कूटनीतिक मायने और है| लेकिन विवाद के हालात में BCCI सरकार पर इसके लिए अनुमति देने का दबाव बनाता नजर आ सकता था | भारत-पाक मैच का आर्थिक महत्व BCCI और ICC दोनों अच्छे से समझती है| इस बीच अब भी सवाल वहीँ है कि क्या BCCI देश में नहीं है जो देश के कानून से बाहर है?

दर्शकों को मिली स्मिथ-वार्नर को गालियां देने की खुली छूट…

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.