IndvEng : भारत की हार, एक साजिश!

0

बर्मिंगम (Birmingham) में इंग्लैंड (India vs England ) के साथ कड़े मुकाबले में भारत को 31 रनों से हार का सामना करना पड़ा (India Defeat In World Cup 2019)। विश्वकप (Cricket World Cup)  में भारत के एक मैच हार जाने के बाद भी देश में दुःख नहीं, न ही खिलाड़ियों को हार जाने का मलाल है, क्योंकि इस बार भगवाधारी भारतीय खिलाड़ी (India national cricket team) पाकिस्तान (Pakistan) को मात देने के लिए जानबूझकर हारें हैं! पाकिस्तान (pakistan) सेमीफायनल में न पहुंचे इसीलिए भगवाधारी भारतीय खिलाड़ियों ने हार को अपना लिया।

टीम इंडिया की हार पर फैन्स और दिग्गजों की प्रतिक्रिया

पुलवामा हमले (2019 Pulwama attack) के बाद जैसे बालाकोट एयरस्ट्राइक (2019 Balakot airstrike) की गई, पाकिस्तान जाने वाले भारतीय सामान पर शुल्क बढ़ाया गया और तो और पाक के पीएम इमरान खान (PM Imran Khan )  से भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi ) ने अंतर्राष्ट्रीय मंच पर भी वार्ता न कर, दोनों देशों के बीच चल रही तकरार को प्रदर्शित किया। इन सब के बावजूद यदि भारत की जीत से पाकितान जीते और हार से हारे तो भारतीय खिलाड़ियों ने हार को ख़ुशी से गले लगा लिया। भारत की इस हार के बाद पाकिस्तान से सोशल मीडिया पर कई कमेंट्स आ रहे हैं।

अंततः धीमी बल्लेबाजी ही बनी टीम इंडिया की हार का कारण

रोहित शर्मा के शानदार शतक और विराट कोहली (66) के अर्द्धशतक के बाद भी भारत इंग्लैंड के 338 रनों के लक्ष्य को न भेद जानबूझकर असफल हुआ (India Defeat In World Cup 2019)। इस विश्वकप में भारत की यह पहली हार है, जो शायद न होती यदि इसे पाकिस्तान का संबंध न होता। मतलब आज भारत की हार के लिए पाकिस्तान ही जिम्मेदार है। ऐसा शायद पहला मौक़ा ही होगा जब क्रिकेट के मैदान पर पाकिस्तानी खिलाड़ी भारत की जीत के लिए चीयर कर रहे थे। पाकिस्तानी क्रिकेट फैंस भी यही दुआ कर रहे थे कि भारत जीत जाए। मैच में ऐसी बातें हुई और भारतीय खिलाड़ियों का ऐसा रवैया दिखा, जिससे लग रहा था कि भारत मैच जीतना ही नहीं चाहता। लास्ट के पांच ओवरों में जहां भारतीय टीम को प्रहार करना था वहां उन्होंने अपना रुख बदल लिया और सिंगल-सिंगल रन ले रहे थे।

सेमीफाइनल में 350 से कम में गुजारा नहीं होगा!

इंग्लैंड (India Defeat In World Cup 2019) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट खोकर 337 रन बनाए थे। जवाब में भारत 50 ओवर में पांच विकेट के नुकसान पर 306 रन ही बना पाया। अपनी हार के बाद भी भारतीय टीम के कप्तान ने इंग्लैण्ड की टीम की तारीफ़ करते हुए कहा, “पंत और पंड्या जब बैटिंग कर रहे थे, तो उनके पास अच्छा मौका था। हमारे विकेट गिर गए और फिर चेज करना मुश्किल हो गया, लेकिन आखिरी में इसका श्रेय इंग्लैंड को ही जाता है। उन्होंने अच्छी गेंदबाजी का प्रदर्शन किया, इसलिए ज्यादा रन नहीं जुड़ पाए। यदि बैट्समैन रिवर्स स्वीप से छक्का लगाते हैं, तो स्पिनर बहुत काम नहीं आते। ऐसे में उन्हें ज्यादा स्मार्ट होना पड़ता है। एक बार तो मुझे लगा कि इंग्लैंड 360 रन बना लेगा, लेकिन हमने फिर वापसी की और उन्हें 330 के आसपास रोकने में कामयाब हुए।

Share.