हार के बाद बोले विलियमसन, बताया इस गेंद की वजह से हारे मैच

0

बड़े ही दिलचस्प अंदाज़ से इंग्लैंड की टीम क्रिकेट की विश्व विजेता बन गई| टाई होने के बाद यह मुकाबला सुपर ओवर में चला गया और यह भी टाई हो गया| इसके बाद जिस टीम ने सबसे ज्यादा बाउंड्री लगाईं उसे विश्व विजेता घोषित किया गया| हार के बाद कीवी टीम के कप्तान (Kane Williamson Statement After World Cup 2019) ने कहा, इतने करीब आकर हारना दिल तोड़ने वाला रहा|

विश्व विजेता पर होगी पैसों के बारिश

इस गेंद की वजह से हारे मैच (Kane Williamson Statement After World Cup 2019)

फाइनल के आखिरी ओवर में जब इंग्लैंड को 3 गेंदों में 9 रन की जरूरत थी, तो बेन स्टोक्स ने ट्रेंट बोल्ट की फुल टॉस गेंद को डीप मिडविकेट की तरफ खेलकर दो रन के लिए भागे, लेकिन स्ट्राइकर एंड की तरफ फेंका गया थ्रो स्टोक्स के बैट से टकराकर ओवरथ्रो के लिए बाउंड्री के बाहर चला गया और इंग्लैंड को इस गेंद पर छह रन मिल गए और यही से यह मैच पलट गया|

इस बारे में कप्तान विलियमसन ने मैच के बाद कहा, “ये निराशाजनक है कि गेंद स्टोक्स के बल्ले से टकराई, लेकिन मैं उम्मीद करता हूं कि ऐसे पलों में ऐसा न हो| दुर्भाग्य से ऐसी चीजें समय-समय पर होती हैं| ये उस खेल का हिस्सा है, जिसे हम खेलते हैं| मैं आलोचक नहीं करना चाहता हूं, लेकिन उम्मीद करता हूं कि ऐसा फिर कभी न हो|”

CRICKET QUIZ! विश्व कप 2019 से जुड़े 10 सवाल, क्या जवाब दे पाएंगे आप?

विलियम्सन ने आगे कहा, “ये निश्चित तौर पर अतिरिक्त रन नहीं था| ऐसे कई पल थे, जो दोनों में से किसी भी तरफ जा सकते थे, लेकिन इंग्लैंड को बधाइयां-उनका अभियान शानदार रहा और वे जीत के हकदार हैं| इस समय खिलाड़ी टूट गए हैं, ये दिल तोड़ने वाला है| इस समय इसे पचा पाना मुश्किल है, लेकिन खिलाड़ियों द्वारा एक शानदार प्रयास||”

कैसा रहा मैच

ENG vs NZ Final LIVE : इंग्लैंड की जीत

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड ने निर्धारित 50 ओवर में 241 रन बनाए| लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड भी निर्धारित 50 ओवर में 241 रन बना पाई| इसके बाद यह मुकाबला सुपर ओवर में पहुंचा| सुपर ओवर के नियम के अनुसार न्यूजीलैंड ने पहले गेंदबाजी की| सुपर ओवर में इंग्लैंड ने 15 रन बनाए और न्यूजीलैंड को जीत के लिए 16 रनों का लक्ष्य दिया| सुपर ओवर में न्यूजीलैंड भी 15 रन बनाने में कामयाब हुई और सुपर ओवर भी टाई हो गया| जिसके बाद इंग्लैंड को बाउंड्री के आधार पर इंग्लैंड को विश्व विजेता घोषित कर दिया गया|

Share.