website counter widget

बड़े मैच नहीं होंगे रद्द, आईसीसी ने रखा रिजर्व डे!

0

बारिश की वजह से विश्व कप का रोमांच ठंडा पड़ गया है| इंग्लैंड में लगातार हो रही बारिश की वजह से 3 महत्वपूर्ण मुकाबले रद्द हो गए हैं| इसके बाद इन मैचों के लिए रिज़र्व डे (Reserve Day Is Not Possible For Every Match) ना रखने पर हर कोई आईसीसी की आलोचना कर रहा है|

सोमवार को वेस्टइंडीज और साउथ अफ्रीका (WI vs SA) के बीच खेला गया मैच बारिश के कारण रद्द होने के बाद मंगलवार को श्रीलंका और बांग्लादेश (SL vs BAN) के बीच खेला गया मैच भी बिना एक भी गेंद फेंके ही बारिश की वजह से रद्द करना पड़ा| इससे पहले 7 जून को श्रीलंका और पाकिस्तान (SL vs PAK) के बीच खेला गया मैच भी बारिश की वजह से रद्द करना पड़ा था| यानी पिछले 4 दिनों में 3 मैच बारिश की वजह से रद्द हो गए हैं|

WC 2019 : पृथ्वी शॉ सहित ये 4 खिलाड़ी कर सकते हैं धवन को रिप्लेस

पहली बार किसी विश्व कप में बारिश की वजह से 3 मैच रद्द हुए हैं| इसी बीच आईसीसी (ICC) ने लीग चरण के मैचों के लिए रिजर्व डे न रखने की वजह बताई है| आईसीसी के सीईओ डेव रिचर्डसन (Dave Richardson Said Reserve Day Is Not Possible For Every Match) ने अपने फैसले बयान में कहा है, “हर मैच के लिए रिजर्व डे रखने से टूर्नामेंट की अवधि काफी लंबी जाएगी  और व्यावहारिक रूप से ऐसा करना बेहद मुश्किल होगा|”

बारिश वाला वर्ल्ड कप : बांग्लादेश और अफगानिस्तान के बीच होगा फ़ाइनल!

उन्होंने कहा (Reserve Day Is Not Possible For Every Match), ‘ये पिच की तैयारी, टीम की रिकवरी, यात्रा के दिन, आवास और स्थल की उपलब्धता, टूर्नामेंट स्टाफिंग, स्वयंसेवक और अधिकारियों की उपलब्धता, प्रसारण लॉजिस्टिक्स और खासतौर पर दर्शकों की मैच के लिए यात्रा अवधि पर प्रभाव डालेगा| साथ ही इस बात की भी कोई गारंटी नहीं है कि रिजर्व डे के दिन बारिश नहीं होगी|”

नॉक आउट मुकाबलों के लिए रिजर्व डे

डेव रिचर्डसन (Dave Richardson) ने बताया कि “हमने नॉक आउट मैचों के लिए रिजर्व डे रखे हैं|  ये बहुत ही बेमौसम बारिश है| पिछले कुछ दिनों के दौरान यहां जून के औसत मासिक वर्षा के दोगुने से भी ज्यादा बारिश हुई है| जून को यूके का तीसरा सबसे सूखा महीना माना जाता है| 2018 में जून में यहां सिर्फ 2 मिमी वर्षा हुई थी, लेकिन सिर्फ पिछले 24 घंटे के दौरान ही दक्षिण-पश्चिम इंग्लैंड में करीब 100 मिमी बारिश हो चुकी है|”

डॉक्टर्स की निगरानी में गब्बर, जगह लेंगे पंत !

आईसीसी सीईओ ने कहा, “जब कोई मैच मौसम से प्रभावित होता है, तो मैदान की टीम मैच के अधिकारियों और ग्राउंड स्टाफ के साथ मिलकर ये कोशिश करती है कि क्रिकेट खेलने के लिए बेहतर अवसर हों, फिर भले ही ओवरों की संख्या घटाकर ही मैच हो|”

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.