भुवी भी हो सकते है बाहर, यह बॉलर पहुंचा ब्रिटैन !

0

खिलाड़ियों की चोट टीम इंडिया (team india) के लिए वर्ल्ड कप में परेशानी का सबब बन गई है| शिखर धवन (shikhar dhavan ) जहां चोटिल होकर टीम से बाहर हो गए हैं, वहीं तेज गेंदबाज भुवनेश्वर (bhuvneshawar ) को लेकर भी संशय जारी है| फ़िलहाल भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने तेज गेंदबाज नवदीप सैनी (navdeep saini) को आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 (icc cricket world cup 2019) में टीम इंडिया के नेट बॉलर के रूप में इंग्‍लैंड बुलाया है|

सैनी टीम इंडिया से जुड़ चुके हैं और वेस्‍ट इंडीज के खिलाफ मैनचेस्‍टर में होने वाले मैच से पहले वह भारतीय टीम के साथ ट्रेनिंग शुरू कर देंगे| अब सैनी को इंग्लैंड भेजने से भुवनेश्‍वर कुमार की चोट को लेकर भी चिंताएं और भी बढ़ गई हैं| कहा जा रहा है कि भुवी की चोट गंभीर है और सैनी उनकी जगह ले सकते हैं| हालांकि बीसीसीआई की ओर से भुवी की चोट पर अभी कोई बयान नहीं आया है| पाकिस्‍तान के खिलाफ मैच में भुवी के बाएं पैर की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया और वे गेंदबाजी बीच में छोड़कर ही पवेलियन लौट गए थे |

शाकिब अल हसन ने रचा इतिहास, बनाए बड़े-बड़े रिकॉर्ड

बाएं पैर की मांसपेशियों में खिचाव के चलते भुवनेश्वर दो से तीन मैचों के लिए बाहर हो गए हैं| चोट अधिक गंभीर है या नहीं इस पर कुछ कहा नहीं जा सकता | उन्‍होंने हल्की ट्रेनिंग शुरू तो की है लेकिन फिजियो पैट्रिक फरहार्ट की कुछ ड्रिल में वे परेशान नजर आए| साउथैम्पटन में फरहार्ट ने भुवनेश्वर को सीढ़ियां चढ़ने को कहा था और अंतिम दो सीढ़ियां तेज चढ़ते हुए उन्होंने एक बार दर्द की शिकायत की थी|

BAN vs AFG  LIVE : 200 रन पर सिमटी अफगानिस्तान

जानकारी के अनुसार, भारतीय टीम प्रबंधन ने वर्ल्‍ड कप के बचे हुए मैचों के लिए नवदीप सैनी को नेट गेंदबाज के रूप में बुलाया है| सैनी वर्ल्‍ड कप के लिए भारतीय क्रिकेट टीम की शुरुआती स्टैंडबाई लिस्‍ट का हिस्सा थे| बीसीसीआई के मीडिया विभाग ने आधिकारिक वाट्सऐप ग्रुप पर जानकारी दी, ‘नवदीप सैनी मैनचेस्टर पहुंच गया है और वह भारतीय टीम के साथ ट्रेनिंग करेगा| वह यहां एकमात्र नेट गेंदबाज है|’वर्ल्‍ड कप की शुरुआत में दीपक चाहर, खलील अहमद, आवेश खान और नवदीप सैनी को नेट गेंदबाज के रूप में चुना था| नवदीप सैनी घरेलू क्रिकेट में दिल्‍ली की ओर से खेलते हैं| वे पिछले कुछ सालों से सबसे ज्‍यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों में शुमार हैं| वे लगातार 145 किलोमीटर प्रतिघंटे से तेज गेंद डाल सकते हैं|

SEMI-FINAL- 9 जुलाई को इस मैदान में होगा भारत-पाकिस्तान मुकाबला!

Share.