मैं दोषी हूं, जिंदगी भर न्यूजीलैंड से माफी मांगता रहूंगा – स्टोक्स

0

ऑल राउंडर बेन स्टोक्स (Ben Stokes) की 84 रनों की पारी के दम पर इंग्लैंड ने अपने सिर क्रिकेट का क्राउन सजाया, लेकिन वे इस जीत से संतुष्ट नहीं हैं| उन्हें जिस तरह की जीत चाहिए थी, वैसी जीत नहीं मिली| इंग्लैंड के विश्व विजेता बनने के बाद स्टोक्स का बयान सामने आया है| उन्होंने कहा है कि, ओवरथ्रो की घटना के लिए पूरी जिंदगी न्यूजीलैंड से माफी मांगते रहेंगे|

अब धोनी टीम का हिस्सा नहीं, टी-20 विश्व कप टीम से बाहर!

फाइनल (World Cup Final 2019) के आखिरी ओवर में जब इंग्लैंड को 3 गेंदों में 9 रन की जरूरत थी, तो बेन स्टोक्स (Ben Stokes) ने ट्रेंट बोल्ट की फुल टॉस गेंद को डीप मिडविकेट की तरफ खेलकर दो रन के लिए भागे, लेकिन स्ट्राइकर एंड की तरफ फेंका गया थ्रो स्टोक्स के बल्ले से टकराकर ओवरथ्रो के लिए बाउंड्री के बाहर चला गया और इंग्लैंड को इस गेंद पर छह रन मिल गए और यही से यह मैच पलट गया|

इस घटना पर स्टोक्स ने कहा, “मैंने केन से कहा कि मैं उसके (ओवरथ्रो) लिए पूरी जिंदगी माफी मांगता रहूंगा| ये वैसा नहीं तरीका था, जैसे मैं (जीत हासिल) करना चाहता था…गेंद मेरे बैट से टकराकर जा रही थी…मैंने केन से माफी मांगी|”

देखें World Cup 2019 के टॉप 5 बल्लेबाज और गेंदबाज

स्टोक्स ने आगे कहा, “इन चार सालों में जो भी कठोर बातें कही गईं, उसी से हमने ये करने के लिए प्रेरणा ली| इसे ऐसे मैच के साथ करना, मुझे नहीं लगता कि क्रिकेट इतिहास में फिर कभी ऐसा मैच होगा|”  न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन ने भी ओवरथ्रो की घटना को निराशाजनक बताया लेकिन उन्होंने इंग्लैंड को जीत का हकदार बताया|

कीवी टीम के कप्तान ने कहा, “गेंद का स्टोक्स के बल्ले से टकराना निराशाजनक था| आप उम्मीद करते हैं कि ऐसे पलों में ये न हो| मैं उम्मीद करता हूं कि ऐसा फिर कभी न हो|”

ये 2 नियम बदल दो, न्यूजीलैंड बन जाएगा विश्व विजेता

इंग्लैंड की टीम चौथी बार वर्ल्ड कप फाइनल में पहुंची थी| इससे पहले उसे 1979 में वेस्टइंडीज, 1987 में ऑस्ट्रेलिया और 1992 में पाकिस्तान के हाथों फाइनल में शिकस्त मिली थी| वहीं न्यूजीलैंड की टीम को 2015 वर्ल्ड कप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों मिली हार के बाद लगातार दूसरे फाइनल में शिकस्त मिली|

Share.