आर्ट, वाइल्ड लाइफ और खूबसूरत साइट्स देखनी हैं तो जाएं गुजरात

1

वैसे तो भारत में कई एक से बढ़कर एक पर्यटन स्थल हैं, लेकिन इन सब में गुजरात की बात अलग ही है| यदि आप अलग-अलग चीजों को एक ही जगह पर देखना चाहते हैं तो आपके लिए गुजरात सबसे अच्छी जगह है| वहां प्रकृति प्रेमियों को खूबसूरत साइट्स और साहित्य प्रेमियों के लिए भी एक से बढ़कर एक देखने लायक चीजे हैं| यहां पर कल्चर में भिन्नता के कारण सालभर पर्यटकों का जमावड़ा लगा रहता है| यहां कई ऐसी जगहें हैं, जहां जाकर आपका दिल खुश हो जाएगा| नवरात्रि में तो यहां अलग ही नज़ारा देखने को मिलता है| यहां महात्मा गांधी से लेकर सरदार वल्लभभाई पटेल के घर और उनके कार्यस्थल को देखने भी लोग पधारते हैं| आज हम आपको गुजरात के कुछ खूबसूरत स्थलों के बारे में बता रहे हैं, जिसके बाद आप भी कहेंगे कि कुछ दिन तो गुजारो गुजरात में…

महापर्व नवरात्रि

नवरात्रि का पर्व आने वाला है| ऐसे में गुजरात में पूरे नौ दिन रौनक लगी रहती हैं| देश-विदेश के कई लोग यहां के गरबा महोत्सव में भाग लेने जाते हैं| यहां के गरबे पूरे देश में फेमस हैं| यहां लोग पूरे उत्साह और भक्ति के साथ नौ दिन गरबे की रौनक बढ़ाते हैं|

गिर वन्यजीव अभ्यारण्य

यहां एशिया में सिंहों का एकमात्र निवास स्थान होने के कारण पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है| दुनियाभर के लोग यहां पहुंचते हैं| अभयारण्य 1424 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है, जिसमें 258 वर्ग किलोमीटर में राष्ट्रीय उद्यान और 1153 वर्ग किलोमीटर वन्यप्राणियों के लिए आरक्षित अभयारण्य विस्तार है| इसके पास ही आप मितीयाला वन्यजीव अभयारण्य भी जा सकते हैं, जो 18.22 किलोमीटर में फैला हुआ है|  आपको यहां जंगली सूअर, मोर, हिरण और शेर देखने को मिलेंगे|

बड़ौदा म्यूजियम 

सयाजी बाग में स्थित बड़ौदा म्यूजियम और आर्ट गैलरीज में आपको भारत, चीन, तिब्बत, जापान, यूरोप और इजिप्ट की कई ऐतिहासिक चीजें देखने को मिल सकती हैं| यहां आप फोटो गैलरी का भी मज़ा ले सकते हैं| वैसे तो संग्रहालयों में फोटो लेना मना होता है, लेकिन यहां पर आप परमिशन लेकर फोटो ले सकते हैं|

पिरोटन आइलैंड 

आपको शायद मालूम नहीं होगा कि गुजरात के जामनगर में 42 आइलैंड्स हैं, लेकिन पर्यटक सिर्फ पिरोटन आइलैंड ही जा सकते हैं बाकी के आइलैंड सभी लोगों के लिए खुले नहीं हैं| यदि आप नाव से जाते हैं तो कई आइलैंड्स से होते हुए पिरोटन पहुंचेंगे| यहां प्रकृति की सुन्दरता का अद्भुत नजारा देखने को मिलेगा|

चंपानेर और पावागढ़ 

ऐसा माना जाता है कि चंपानेर को चावड़ा वंश के राजपूतों ने 8वीं सदी में खोजा था| यहां पर 15वीं शताब्दी में चौहान शासकों ने राज किया, इसके बाद मोहम्मद बेगदा ने युद्ध में इसे जीत लिया और इसका नाम मुहम्मदाबाद कर दिया| पावागढ़ का प्राचीन कालिका मंदिर बहुत फेमस हैं| यहां माता के दर्शन के लिए दूरदराज से लोग आते हैं|

कच्छ का रण

गुजरात का कच्छ का रण आपको जादुई अनुभव कराएगा| इसे दुनिया का सबसे बड़ा रेगिस्तान माना जाता है| यहां पर  रण उत्सव का आयोजन भी होता है| इस जगह पर आप ऊंट की सवारी का मज़ा ले सकते हैं| साथ ही यहां डूबते हुए सूरत को देखना और सफेद रेगिस्तान पर चमकते चांद के नजारे आप कभी भूल नहीं पाएंगे|

अडालज नी वाव 

अडालज नी वाव  को अडालज की बावड़ी भी कहते हैं| यहां आपको गुजराती आर्किटेक्चर का बहुत सुंदर और अनोखा उदाहरण देखने को मिलेगा| इसे देखने दूर-दूर से लोग आते हैं| आप यहां प्राग महल और आईना महल, कच्छ म्यूजियम, मांडवी, धौलावीरा भी घूमने जा सकते हैं|

मरीन नेशनल पार्क – भारत का पहला समुद्री अभयारण्य

जामनगर जिले में कच्छ की खाड़ी के दक्षिणी तट पर स्थित, यह मरीन नेशनल पार्क भारत का पहला समुद्री अभयारण्य है| इसकी स्थापना 1982 में की गई थी, जो अब गुजरात के वन विभाग द्वारा संचालित किया जाता है| आप पानी के नीचे दुर्लभ और रंगीन जीवों से भरा एक मनोरम जंगल देख सकते हैं| यह नजारा बहुत ही मनमोहक होता है|

World Tourism Day  : भारत की इन खूबसूरत जगहों के हो जाएंगे कायल

कहीं घूमने का प्लान कर रहे हैं तो पढ़िए…

शुरू हुई एकल विदेशी पर्यटकों की ऐतिहासिक यात्रा

Share.