Jagannath Puri Tourism : तीर्थ यात्रा अधूरी, जो नहीं गए ‘पुरी’

0

भारत के पूर्वी राज्य ओड़िशा(उड़ीसा ) में बंगाल की खाड़ी पर एक पौराणिक, दर्शनीय और खूबसूरत पर्यटन स्थल है पुरी | प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर (Shree Jagannath Temple) के कारण ओड़िशा की राजधानी भुवनेश्वर से 60 किमी दूर बसे पुरी (Places To Visit In Puri)  शहर को जगन्नाथ पुरी (Jagannath Puri) भी कहा जाता है| शहर का यही नाम ज्यादा लोकप्रिय है| हिंदू मान्यताओं के अनुसार पुरी  के दर्शन बिना तीर्थ यात्रा अधूरी मानी जाती है| जगन्नाथ मंदिर  की विशेषता है कि यह भारत का एकमात्र ऐसा मंदिर है जहां राधा, के साथ दुर्गा, लक्ष्मी, पार्वती, सती, और शक्ति सहित भगवान कृष्ण के दर्शन एक साथ हो सकते हैं|

Kanyakumari Tourism : दक्षिण भारत का खूबसूरत अंतिम छोर कन्याकुमारी

Image result for puri tourism

भगवान जगन्नाथ (Shree Jagannath Temple) की पवित्र भूमि पुरी को पुराणों में पुरुषोत्तम पुरी, पुरुषोत्तम क्षेत्र, पुरुषोत्तम धाम, नीलाचल, नीलाद्रि, श्रीश्रेष्ठ और शंखश्रेष्ठ भी कहा गया हैं| साल में एक बार मनाया जाने वाला पुरी (Jagannath Puri) रथोत्सव देश और दुनिया में प्रसिद्ध है| इस दिन भगवान् जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा रथों पर विराजित हो कर नगर भ्रमण को निकलते हैं| पुरी (Puri) पर्यटन का सबसे महत्वपूर्ण आकर्षण भी यही है| पुरी (Puri) एक धार्मिक स्थल है| यहां के अनगिनत मंदिरों के कारण इसे भारत के सात सबसे पवित्र स्थानों में से एक कहा गया है| विश्व प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर, चक्र तीर्थ मंदिर, मौसीमां मंदिर, सुनारा गौरांग मंदिर, श्री लोकनाथ मंदिर, श्री गुंड़िचा मंदिर, अलरनाथ मंदिर और बलिहर चंडी मंदिर मुख्य हैं | गोवर्धन मठ, बेड़ी हनुमान मंदिर, पुरी समुद्री तट,बलिघई समुद्र तट, स्वर्ग द्वार अन्य स्थल है जो तीर्थ यात्रियों और पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र हैं|

Image result for puri tourism

जगन्नाथ (Jagannath Puri) में मूर्तियों से जुडी एक कहानी है| कहते है कि बारहवी शताब्दी में कलिंग के राजा चोडगंग को श्रीकृष्ण ने स्वप्न में कहा कि मन्दिर बनवाये और उसमे देवरारु( देवदार) की लकड़ी से बानी मूर्तियां विराजित करें| एक कुशल मूर्तिकार आया और उसने राजा से कहा कि मैं एकांत कमरे में दरवाजा बंद कर अपना काम करूँगा और जब तक मेरा काम पूर्ण न हो जाये आप भी वहां प्रवेश न करें| राजा ने मूर्तिकार की शर्त मान कर उसके लिए कमरे का प्रबंध कर दिया | बहुत दिन बाद भी कमरे से मूर्तिकार नहीं निकला बस खट-खट की आवाज ही आती रहती थी| अंतत: राजा का धीरज टूट गया और उसने दरवाजे पर दस्तक दी| लेकिन अंदर से कोई आवाज नही आयी | अंत में राजा ने दरवाजा तोड़ दिया | वहां कोई नहीं था | तीन आधी बनी मूर्तियां वहां पड़ी थी|कहा जाता है मूर्तिकार के रूप में स्वयं श्रीकृष्ण भगवान ही वहां आये थे | आज भी मन्दिर में तीनों अर्धनिर्मित प्रतिमाएं ही विराजित है| यह भी कहा जाता है कि भगवान भोजन करने इस मन्दिर में आते है फिर द्वारिका लौट जाते हैं|

Rishikesh Tourism : मन की शांति के लिए चलो, पावन-पवित्र ऋषिकेश

Image result for puri tourism

पुरी (Jagannath Puri) से 14 किमी दूर स्थित रघुराजपुर को भारत की सांस्कृतिक राजधानी कह दिया जाना अतिश्योक्ति नहीं होगी | पुरी में हस्तशिल्प पुरी के हस्तशिल्प और कुटीर उद्योग दुनिया भर में प्रसिद्ध हो चुके हैं| पर्यटक पत्थर पर नक्काशी, अधिरोपण, पट्टा चित्र, लकड़ी पर नक्काशी, आधुनिक पैच का काम, मृणमूर्ति, कांसा और सीप से बने शिल्प और उत्कृष्ट पारंपरिक सज सज्जा के साधन को देख खुद को इन्हे खरीदने से रोक नहीं पाते | पुरी  की संस्कृति और विरासत को दर्शाते ये बाजार बेहद मनमोहक है| पुरी हवाई, सड़क और रेल द्वारा देश के सभी बड़े शहरों से जुड़ा है| पुरी  घूमने जून से मार्च के बीच जाये तो मजा ही कुछ और है|

Image result for puri tourism

पुरी दर्शन (Places To Visit In Puri)

Image result for puri market

जगन्नाथ मन्दिर (Shree Jagannath Temple)

भगवान् जग्गनाथ के इस अति प्राचीन मन्दिर में जगन्नाथ , बलभद्र और सुभद्रा की प्रतिमाएं विराजमान हैं| मन्दिर की हर दीवार में , हर दिशा में एक-एक दरवाजा है| यहां 6 फीट लम्बी और 4 फीट ऊँची रत्नवेदी पर सुदर्शन रखा हुआ है| बारहवी शताब्दी में नरेश चोडगंग द्वारा निर्मित मन्दिर कृष्णवर्ती पाषाणों से बनाया गया है|

Image result for jagannath mandir puri

साक्षी गोपाल मन्दिर – पुरी से 25 किमी दूर साक्षीगोपाल मन्दिर भी काफी प्रसिद्ध है|

Image result for साक्षी गोपाल मन्दिर puri

चिलका झील – यहां आप नौका विहार का आनन्द ले सकते है| यहाँ 160 प्रकार की मछलियां इस जगह को और भी खास बनाती है | झील को हनीमून आइलैंड भी कहा जाता है |

Image result for चिल्का झील puri

समुद्रतट – पुरी के समुद्रतट को गोल्डन बीच कहा जाता है|

Image result for puri tourism

Kolkata Tourism : कोलकाता में करें एक साथ कई संस्कृतियों के दर्शन

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.