website counter widget

राजस्थान का इतिहास मतलब ‘पाली’ का पर्यटन

0

राजस्थान का औद्योगिक शहर पाली(Pali Tourism) प्रशासनिक मुख्यालय होने के साथ-साथ एक बेहद प्रसिद्ध पर्यटक आकर्षण भी है | बाँदी नदी के किनारे पर पल्लिका, पल्ली और पाली नामों से जाना जाने वाला यह शहर प्राचीनकाल में पालीवाल ब्राह्मणों का मुख्य निवास था सो इसे यह नाम मिला | पाली का कपड़ा उद्योग प्राचीन काल से ही प्रमुख व्यापार केन्द्र के रूप में इसे विकसित करने में सहायक रहा है| यहाँ के जैन मन्दिरों, किलों, बगीचों और संग्रहालयों को देखने पर्यटक यहाँ सालभर आते है| नवलखा मन्दिर जैसे सुन्दर वास्तुकला के नमूने आपको यहाँ देखने को मिल जायेंगे |

मंदाकिनी के तट पर रामायण कालीन ‘चित्रकूट’ के नज़ारे

Image result for pali rajasthan tourist place

परशुराम महादेव मन्दिर, चामुण्डा माता मन्दिर, सोमनाथ मन्दिर और हतुण्डी रता महाबीर स्वामी मन्दिर के अलावा पाली का बाँगर संग्रहालय पाली के ऐतिहासिक दर्शन करवाता है| यहाँ प्राचीन सिक्कों, शाही परिधान और गहनों के दुर्लभ संग्रह को आप निहार सकते हैं। लखोटिया गार्डन , प्राचीन शिव मन्दिर, सीढ़ीदार कुएँ- बावड़ी , सजोट में मेहंदी की खेती के नज़ारे आपको आनंद से भर देंगे | निम्बो का नाथ, आदीश्वर मन्दिर और सूर्यनरायण मन्दिर भी यहाँ के प्रमुख प्रसिद्ध तीर्थ स्थल हैं|

देखें पत्थर पर नक्काशी की खूबसूरत मिसाल, मप्र का भोजपुर

Image result for pali rajasthan tourist place

पाली सड़क, रेल एवं वायुमार्गों द्वारा सभी बड़े शहरो से जुड़ा है| निकटतम हवाईअड्डा जोधपुर दिल्ली, बंगलूरू, कोलकाता और मुम्बई जैसे प्रमुख भारतीय शहरों से जुड़ा हुआ है| राष्ट्रीय राजमार्ग-111 पाली को बिलासपुर और अम्बिकापुर से जोड़ता है| पाली में छुट्टियाँ बिताने के लिये सर्दियों का मौसम सबसे सही है|पाली पर्यटन के दौरान आप राजस्थानी खाने का भी आनंद ले सकते हैं| राजस्थान वैसे भी अपने लजीज़ खाने और विभिन्न व्यंजनों के लिए जाना जाता हैं|

घूमने चलें, सांई बाबा की नगरी ‘शिर्डी’

Image result for pali rajasthan tourist place and food

पाली के नज़ारे –
परशुराम महादेव मंदिर- अरावली पर्वत श्रृंखला में स्थित यह मंदिर भगवान विष्णु के छठे अवतार परशुराम को समर्पित है|

Image result for परशुराम महादेव मंदिर- pali rajasthan
लाखोटिया उद्यान -धार्मिक स्थलों के बीच प्राकृतिक स्थलों का पर्यटन |

Image result for लाखोटिया उद्यान pali rajasthan
बंगुर संग्रहालय – राजस्थान के इतिहास के दर्शन आप इस संग्रहालय में करे | तांबे के सिक्के, पेंटिंग्स, हथियार और ट्राइबल हैंडीक्राफ्ट का खास संग्रह |

Image result for बंगुर संग्रहालय pali rajasthan
जवाई डैम

Image result for जवाई डैम pali rajasthan
ओम बन्ना-

ओम बन्ना उर्फ ओम सिंह राठौड़ की बुलेट मोटरसाइकिल को यहाँ आज भी उनकी मौत के बाद पूजा जाता हैं| कहानी कुछ यूँ है कि पाली से 20 किलोमीटर दूर एक मोड़ पर लगातार दुर्घटनाएं होती थीं|1988 में ओम बन्ना पाली से अपने गांव चोटिला की ओर अपनी पसंदीदा बुलेट से लौट रहे थे और उनकी दुर्घटना में मौत हो गई| बाइक थाने में जमा हुई | लेकिन वह फिर से एक्सीडेंट वाली जगह से बरामद हुई| फिर पुलिस वाले उसे थाने लाए| अगली सुबह बुलेट फिर थाने से गायब और उसी दुर्घटनास्थल पर थी| बाइक उसी खूनी मोड़ के आसपास अकसर देखी जाने लगी और एक्सीडेंट्स होने बंद हो गए| अब ओम बन्ना की इस बाइक के प्रति आस्था के चलते बाइक को यहीं हाइवे पर खड़ा कर दिया गया है और माना जाता है कि पिछले 25 साल से यह बाइक यहां सड़क से गुजरने वालों की रक्षा करती है।

Image result for ओम बन्नाpali rajasthan

Varanasi Tourism : पावन गंगा के किनारे पवित्रतम ‘वाराणसी’ के दर्शन

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.