Places To Visit In Kochi : भारत पर्यटन में का मुख्य आकर्षण कोच्चि

0

अरब सागर के तट पर बसा कोच्चि पर्यटन (Places To Visit In Kochi) के लिहाज से एक शानदार शहर है| कोच्चि भारत का प्रमुख बंदरगाह शहर भी है| इसी कारण कोच्चि केरल की वाणिज्यिक राजधानी के रूप में भी जाना जाता है| कोच्चि को पहले कोचीन भी कहा जाता था | केरल के एर्नाकुलम जिले के कोच्चि  का नाम मलयालम के शब्द ‘ कोचु अजहि’ के नाम पर पड़ा है, जिसका अर्थ है ‘छोटी खाड़ी’| प्राचीन कोच्चि से आज तक कई पुर्तगाली यहाँ बस चुके हैं| शहर पर्यटकों की पहली पसंद है। कोच्चि  में प्राचीन और आज के युग का मिलन देखा जा सकता है |

Image result for kochi tourist places

कोच्चि (Kochi) का समृद्ध सांस्कृतिक इतिहास 14 वीं शताब्दी की गाथा गा रहा है | जिसका जिक्र ऐतिहासिक किताबों में भी है| यहूदी, चीनी, पुर्तगाली, यूनानी, अरब और रोमन व्यापारी यहाँ मसाले खरीदने के लिए आते थे और उनकी वस्तुएँ यहाँ बेचते थे| इसके चलते विभिन्न संस्कृतियों की प्रथाओं का प्रभाव यहाँ पड़ा| कोच्चि (Kochi) का जन जीवन समुद्र से जुड़ा हुआ है | सामाजिकता और काम काज में बंदरगाह और समुद्री जीवन का पूरा प्रभाव है और यह यहाँ की जीविका का मुख्य साधन भी है |

Image result for kochi tourist places

Image result for kochi tourist places

कोच्चि (Kochi) में मछली को केले के पत्ते में लपेटकर बनाया जाना प्रसिद्ध है | जो एक लजीज खाना है |कोच्चि (Kochi) में ऐतिहासिक स्थान, धार्मिक गतिविधियों के केंद्र, संग्रहालय, बच्चों के पार्क और शॉपिंग मॉल, अभ्यारण्य और वन्य जीवन उद्यान हैं| अथिरापल्ली झरने में आप प्रकृति की खूबसूरती का आनंद ले सकते हैं|

Image result for kochi food

Image result for kochi food

कोच्चि (Kochi) में बैकवॉटर्स वेम्बनाद झील केरल की सबसे बड़ी झील है। मरीन ड्राइव बहुत लोकप्रिय स्थान है| कोच्चि किला मतंचेर्री प्रायद्वीप पर स्थित है | कोच्चि के किले का प्रमुख आकर्षण प्रसिद्द मतंचेर्री महल और सांता क्रूज़ बेसीलिका है| यहाँ आप यहूदी सभागृह, डच सिमेटरी, मटानकेरी पैलेस भी देख सकते है |

Image result for kochi tourist places

कोच्चि (Kochi) आज भारत के सर्वश्रेष्ठ पर्यटक आकर्षणों की सूची में पहले दस में स्थान रखता है| कोच्चि से आप कई यादगार और लोकप्रिय वस्तुएं खरीद सकते हैं | मट्टनचेरी, जिव स्ट्रीट और एम जी रोड़ खरीददारी के लिए प्रसिद्ध हैं| पीतल की आकृतियां और लकड़ियों से बने श्रृंगार के बक्से , प्राचीन काल के बर्तन, मालाबार के ताजे मसालों के लिए यहाँ के बाजार हमेशा खुले रहते हैं|

Image result for kochi market

कोच्चि (Kochi) देश के अन्य भागों और दुनिया से हवाई मार्ग, रेल और रास्ते द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है| कोच्चि (Kochi) का मौसम पूरे वर्ष आनंददायक रहता है जिसके कारण यहाँ की यात्रा कभी भी की जा सकती है।वैसे केरल की यात्रा के लिए उत्तम समय जनवरी से अप्रैल के बीच और अक्टूबर से दिसंबर के बीच का होता है|

Image result for kochi bandargah

कोच्चि के मुख्य आकर्षण (Places To Visit In Kochi) –

डच महल– महल पुर्तगालियों द्वारा कोचीन के राजा वीर केरला वर्मा को भेंट किया गया था|

Image result for डच महल kochi

बोलघाट्टी महल– डच लोगों द्वारा बनवाया गया यह महल बोलघट्टी द्वीप पर स्थित है|

Image result for बोलगट्टी महल kochi

हिल महल– 19वीं शताब्दी में कोच्चि के राजा द्वारा यह महल बनवाया गया था| केरला पुरातत्व विभाग के इसे बाद में संग्रहालय में परिवर्तित कर दिया | संग्रहालय में चित्रकारी, नक्काशी और राजकीय वंश से संबंधित वस्तुओं को देखा जा सकता है|

Image result for हिल महल kochi

बेशन बंगला- इन्डो-युरोपियन शैली में बना यह बंगला 1667 ई. में बनवाया गया था| डच किले के स्ट्रोमबर्ग बेशन में स्थित होने के कारण इसका नाम बेशन बंगला पड़ा|

मरीन ड्राइव– कोच्चि के समुद्र तट के किनारे बना यह सड़क पर्यटकों के साथ स्थानीय लोगों के जमावड़े का स्थान है|

Image result for मरीन ड्राइव-kochi

चेराई बीच– कोच्चि से 25 किमी दूर चेराई बीच की सुंदरता नारियल और खजूर के पेड़ों के बीच बने मकान बढ़ाते है| यहां आप डोल्फिन मछलियों को देख सकते है|

Image result for चेराई बीच kochi

सेन्ट फ्रान्सिस चर्च (संत फ्रान्सिस गिरिजाघर)- 1503 ई. में बना यह चर्च भारत का सबसे पुराना यूरोपियन चर्च है| प्रोटेस्टेंट डच द्वारा इसे 1779 में पुन:स्थापित किया गया| कहा जाता है कि वास्को डि गामा को इस चर्च में दफनाया गया था|

Image result for सेन्ट फ्रान्सिस चर्च (संत फ्रान्सिस गिरिजाघर)- kochi

ऐतिहासिक संग्रहालय- इडापल्ली में स्थित इस संग्रहालय में केरल के इतिहास को मूर्ति के माध्यम से दर्शाया गया है|

Image result for ऐतिहासिक संग्रहालय-kochi

पल्लिपुरम किला– 1503 में पुर्तगालियों का बनवाया यह किला यूरोपियन की प्राचीनतम स्मारकों में एक है|

Image result for पल्लिपुरम किला-kochi

परीक्षित थंपुरान संग्रहालय- कोचीन के शाही परिवारों से जुड़ी अनेक वस्तुएं संग्रहालय में राखी है | 19वीं शताब्दी की पेंटिंग, प्राचीन मुद्राएं, पत्थरों की मूर्तियां, पेंटिंग की प्रतिलिपियां, प्लास्टर ऑफ पेरिस आदि |

Image result for परीक्षित थंपुरान संग्रहालय-kochi

कांजिरामट्टम मस्जिद– कोच्चि से 30 किमी की दूरी पर यह पवित्र मस्जिद मुस्लिम संत शेख फरीद की कब्रगाह भी कही जाती है|

कालाडी- आठवीं शताब्दी के महान भारतीय दार्शनिक आदि‍ शंकराचार्य की जन्मभूमि है |

Image result for कालाडी- kochi

अभिषेक

Lucknow Tourism : मोहब्बत वाला शहर-ए-अदब लखनऊ

Rajasthan Tourism : रेगिस्तान के स्वर्णिम पर्यटन का पर्याय जैसलमेर

Mumbai Tourism : ड्रीम सिटी मुंबई टूर, नज़ारे धारावी से बॉलीवुड तक के

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.