Rajasthan Tourism : रेगिस्तान के स्वर्णिम पर्यटन का पर्याय जैसलमेर

0

राजस्थान के शाही महलों, लड़ने वाले ऊंटों और रेतीले रेगिस्तान के लिए प्रसिद्ध है ‘गोल्डन सिटी’ जैसलमेर (Jaisalmer) | थार के रेगिस्तान के बीच में दुनिया का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल जैसलमेर (Jaisalmer) पाकिस्तान, बीकानेर, बाड़मेर और जोधपुर की सीमाओं पर है | राजस्थान की राजधानी जयपुर से यह जिला 575 किमी दूर राव जैसल ने लगभग 12 वीं सदी में बसाया था | जैसलमेर (Jaisalmer) राजस्थानी लोक संगीत, नृत्य के लिए प्रसिद्ध है| कामुक नृत्य ‘कालबेलिया’ यहाँ रहने वाले जनजातियों द्वारा किया जाता है| ऊंट दौड़, पगड़ी बांधना, और सबसे अच्छी मूँछ की प्रतियोगितायें, महान थार रेगिस्तान में ऊंट सफारी का अनुभव सिर्फ जैसलमेर (Jaisalmer) में ही है |

Lucknow Tourism : मोहब्बत वाला शहर-ए-अदब लखनऊ

Image result for jaisalmer tourist places

जैसलमेर (Jaisalmer) का लजीज मुर्ग-ए-सब्ज एक लोकप्रिय व्यंजन है| भनोन आलू, कढ़ी पकोड़ा भी जैसलमेर (Jaisalmer) की पहचान है | जैसलमेर (Jaisalmer) शाही किलों, हवेलियों, महलों, संग्रहालयों और मंदिरों के लिए भी प्रसिद्ध है| जैसलमेर किला गोल्डन सिटी का सबसे प्रसिद्ध पर्यटक आकर्षण है| इसे ‘सोनार किला’ या ‘स्वर्ण किले’ के नाम से भी जाना जाता है | किले के द्वारों को अखाई पोल, हवा पोल, सूरज पोल और गणेश पोल कहा जाता है | किले में राजपूत और मुगल स्थापत्य कला की झलक साफ देखी जा सकती है |

Mahabaleshwar Torurism : पश्चिमी घाटों में बसा खूबसूरत महाबलेश्वर

Image result for jaisalmer tourist places

किले में शाही महल, सात जैन मंदिर, महाराजा का पैलेस या जैसलमेर फोर्ट पैलेस संग्रहालय और विरासत केंद्र मुख्य पर्यटक आकर्षण हैं| चांदी का राज्याभिषेक सिंहासन, बिस्तर, बर्तन, स्थानीय टिकटें, नोटें, और शाही परिवार की मूर्तियां भी इस महल में हैं| जैसलमेर में 180 साल पुराना अकाल लकड़ी का जीवाश्म पार्क भी एक प्रसिद्ध स्थल है| हैरियर, बुज़र्ड, धब्बेदार चील और छोटे पंजे वाली चील, गिद्ध, एक प्रकार का छोटा बाज, बड़े बाजऔर भी कई रेगिस्तानी जीव आप जैसलमेर (Jaisalmer) डेजर्ट नेशनल पार्क में देख सकते हैं|

Image result for jaisalmer tourist places
जैसलमेर में कई पारंपरिक राजस्थानी हस्तशिल्प उपलब्ध हैं| जैसलमेर कढ़ाई के लिए प्रसिद्ध | राजस्थानी दर्पण काम, कालीनों, कंबल, प्राचीन वस्तुएं आप यहाँ से खरीद सकते है |

Lakshadweep Tourism : दुनिया से दूर सुकूनभरा लक्षद्वीप

Image result for jaisalmer market

यह अनूठा पार्क राजस्थान की लुप्तप्राय राज्य पक्षी, ग्रेट इंडियन बस्टर्ड का प्राकृतिक निवासभी है | नाथमलजी की हवेली, सलीम सिंह की हवेली, पतवों की हवेली, श्रीनाथ हवेली, मानक चौक और अन्य हवेलियाँ , मूल सागर, गोपा चौक, जैसलमेर लोककथा संग्रहालय, ताज़िया टॉवर, गदसीसर झील, बड़ा बाग, खुरी रेत टिब्बा, सैम रेत टिब्बा, और कुलधारा जैसलमेर (Jaisalmer) में देखने काबिल है | अमर सिंह झील के तट पर अमर सिंह पैलेस एक सुंदर शाही इमारत है, जो 17 वीं सदी के दौरान राजा महारावल अखाई सिंह द्वारा बनवाया गया था|जैसलमेर (Jaisalmer) के संग्रहालय में जातीय उपकरणों, दुर्लभ जीवाश्मों, प्राचीन शास्त्रों, मध्ययुगीन सिक्कों और पारंपरिक कलाकृतियों के दुर्लभ संग्रह है|

Image result for jaisalmer tourist places

जैसलमेर (Jaisalmer) वायु, रेल और सड़क द्वारा आसानी से पंहुचा जा सकता है | जोधपुर हवाई अड्डा सबसे निकटतम है| यहाँ से नई दिल्ली, कोलकाता, चेन्नई, मुंबई और बेंगलुरु जैसे प्रमुख भारतीय शहरों के लिए नियमित उड़ाने है | जैसलमेर रेलवे स्टेशन कई गाड़ियों द्वारा जोधपुर और अन्य प्रमुख भारतीय शहरों से जुड़ा है| जैसलमेर के लिए डीलक्स और सेमी-डीलक्स बसें भी जयपुर, अजमेर, बीकानेर, और दिल्ली से उपलब्ध हैं| जैसलमेर (Jaisalmer) में साल भर शुष्क और गर्म जलवायु मिलती है| यहाँ अक्टूबर और मार्च के महीनों में आना आदर्श है |

Image result for jaisalmer tourist places

‘गोल्डन सिटी’ जैसलमेर में देखने काबिल  (Tourist Places In Jaisalmer) –

जैसलमेर किला – गोल्डन फोर्ट) जैसलमेर की शान कहा जाता है | इसे ‘सोनार किला’ या ‘स्वर्ण किले’ के रूप में भी जाना जाता है|

Image result for जैसलमेर किला

सर्वोत्तम विलास -महल को 16वीं और 19वीं शताब्दी के बीच निर्मित किये गये थे|

Image result for सर्वोत्तम विलास jaisalmer

ऋषभदेव मंदिर -मूल सागर के तट पर प्रथम जैन तीर्थंकर ऋषभदेव को समर्पित यह मंदिर अपनी सुंदर राजस्थानी स्थापत्य शैली के लिए जाना जाता है | इस मंदिर का निर्माण 16 वीं सदी में हुआ|

Image result for ऋषभदेव मंदिर jaisalmer

गडसीसर झील – 14 वीं सदी के दौरान राजा महरवाल गडसी द्वारा कृत्रिम पानी का जलाशय बनवाया गया |

Image result for गडसीसर झील jaisalmer

खाभा– 35 किमी की दूरी पर खाभा फोर्ट और भूवैज्ञानिक संग्रहालय इस गांव के मुख्य पर्यटक आकर्षण हैं|

Image result for खाभा jaisalmer

खुरी रेत टिब्बा-शहर से 42 किमी की दूरी पर रेगिस्तान की सुनहरी रेत के टीलों पर ऊंट सफारी का आनंद यहाँ लीजिये |

Image result for खुरी रेत टिब्बा jaisalmer

नाथमलजी की हवेली- स्थापत्य शैली, जो राजपूत और मुगल डिजाइन का मिलान है|

Image result for नाथमलजी की हवेली- jaisalmer

अकाल लकड़ी जीवाश्म पार्क-180 साल पुराना पार्क, जैसलमेर शहर से 17 किमी की दूरी पर 21 हेक्टेयर के क्षेत्र में फैला हुआ है| पेड़ के तनों के विशाल जीवाश्म और प्राचीन समुद्री शंख यहाँ देखने को मिलेंगे |

Image result for अकाल लकड़ी जीवाश्म पार्क jaisalmer

डेजर्ट फेस्टिवल जैसलमेर- शहर से 42 किमी दूर स्थित सैम रेत टिब्बा में, फरवरी में आयोजित होने वाला यह समारोह विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों, ऊंट दौड़, पगड़ी बांधने, और सबसे अच्छी मूँछ की प्रतियोगिता का आनंद लेने के लिए प्रसिद्ध है |

Image result for डेजर्ट फेस्टिवल जैसलमेर- jaisalmer

Image result for डेजर्ट फेस्टिवल जैसलमेर- jaisalmer

Image result for डेजर्ट फेस्टिवल जैसलमेर- jaisalmer

Image result for डेजर्ट फेस्टिवल जैसलमेर- jaisalmer

सलीम सिंह की हवेली– खूबसूरत इमारत को सलीम सिंह के द्वारा 1815 ई0 में बनाया गया था|

Image result for सलीम सिंह की हवेली- jaisalmer

डेजर्ट नेशनल पार्क– वर्ष 1980 में स्थापित यह राष्ट्रीय पार्क 3161 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है| इसमें नमक की झील, निश्चित टिब्बे और चट्टानें देखने काबिल है |

Image result for डेजर्ट नेशनल पार्क jaisalmer

शांतिनाथ मंदिर- देश के सात प्रमुख जैन मंदिरों में से एक है|

Image result for शांतिनाथ मंदिर- jaisalmer

अमर सिंह पैलेस -अमर सागर झील के तट पर स्थित अमर सिंह पैलेस एक सुंदर शाही महल है| यह प्राचीन स्मारक जैसलमेर शहर से सिर्फ 7 किमी दूर है|

Related image

डेजर्ट सांस्कृतिक केंद्र और संग्रहालय – यह वर्ष 1997 में स्थापित किया गया था | जातीय उपकरणों, दुर्लभ जीवाश्मों, प्राचीन शास्त्रों, मध्ययुगीन सिक्कों और पारंपरिक कलाकृतियों का एक विशाल संग्रह यहाँ है |

Image result for डेजर्ट सांस्कृतिक केंद्र और संग्रहालय jaisalmer

महाराजा का पैलेस– जैसलमेर किले के परिसर में स्थित है|

Image result for महाराजा का पैलेस jaisalmer

राम कुंड-जैसलमेर से 11 किमी की दूरी पर काक नदी के किनारे पर महाराजा अमर सिंह की रानी मनसुखी देवी द्वारा निर्मित एक प्राचीन राम मंदिर यहाँ मुख्य आकर्षण है|

Image result for राम कुंड-jaisalmer

राजकीय संग्रहालय -पर्यटक राजस्थान के राजकीय पक्षी गोडावन, जिसे महान भारतीय बस्टर्ड के रूप में भी जाना जाता है, की ट्राफी यहाँ देख सकते हैं|

Image result for राजकीय संग्रहालय -jaisalmer

कुलधारा- जैसलमेर से 25 किमी की दूरी पर स्थित एक ऐतिहासिक गांव| यह एक डरावना गांव है जहाँ पर्यटकों को सूर्योदय और सूर्यास्त के बीच ही जाने की अनुमति है|

Image result for कुलधारा- jaisalmer

मूल सागर –जैसलमेर से 8 किमी की दूरी पर एक लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण है|

Image result for मूल सागर jaisalmer

श्रीनाथ हवेली – 15 वीं सदी के दौरान व्यास परिवार द्वारा निर्मित है|

Image result for श्रीनाथ हवेली jaisalmer

पटवों की हवेली – जैसलमेर की पहली हवेली| गुमन चंद पटवा द्वारा 1805 ई0 में अपने पांच बेटों के लिए बनवाई गई |

Image result for पटवों की हवेली -jaisalmer

ताज़िया टॉवर – एक पांच मंजिला इमारत जो मुस्लिम कारीगरों के द्वारा बना कर राजा महारावल बेरीसाल सिंह को भेंट की गई थी |

Image result for ताज़िया टॉवर jaisalmer

जैसलमेर लोककथा संग्रहालय -गडसीसर झील के तट पर एन के शर्मा द्वारा वर्ष 1984 में स्थापित किया गया यह संग्रहालय जैसलमेर की संस्कृति और विरासत का प्रतिक है |

Image result for जैसलमेर लोककथा संग्रहालय jaisalmer

बड़ा बाग –एक विशाल पार्क अपने शाही स्मारकों या छतरियों के लिए प्रसिद्ध है|

Image result for बड़ा बाग - jaisalmer

माणक चौक – जैसलमेर किले के बाहर स्थित माणक चौक प्रमुख पर्यटन आकर्षण हैं|

Image result for माणक चौक jaisalmer

अभिषेक

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.