website counter widget

जयपुर ने बढ़ाया देश का गौरव

0

जयपुर (Places To Visit In Jaipur ) एक ऐसा शहर है जो सदियों से अपनी कला ,संस्कृति और विरासत को सहेजे हुए है। देश के लिए यह बेहद गौरव की बात है कि जयपुर (Jaipur) के परकोटा को यूनेस्को को सूची में शामिल कर लिया गया है। अहमदाबाद के बाद जयपुर देश का दूसरा शहर है जिसने यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में अपनी जगह बनाई है। जयपुर के महल ,मंदिर ,पुरानी हवेलियां और कलाकृतियां हमेशा से ही देशी – विदेशी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते रहे हैं। गुलाबी नगरी के नाम से मशहूर यह शहर अपनी प्रचीनतम संस्कृति और अनुपम संरचनाओं के लिए जाना जाता है।

आइये जानते हैं जयपुर के खास जगहों के बारे में (Places To Visit In Jaipur ) –

प्रकृति प्रेमियों का स्वर्ग है रानीखेत

हवा महल (Hawa Mahal)

हवा महल अपनी उत्कृष्ट वास्तुकला और ऐतिहासिक महत्व के लिए जाना जाता है। इस विशाल महल का निर्माण 1799 में महाराजा सवाई प्रताप सिंह ने करवाया था। इस महल में 953 खिड़कियां है, जिसके कारण इस महल में हवा का बहाव हमेशा बना रहता है इसलिए इसे हवा महल कहा जाता है। इस महल का निर्माण मुख्यत: राजपूत राजसी महिलाओं के लिए किया गया था, ताकि वे शहर की गतिविधियां देख सकें।

चौखी ढाणी (Chokhi Dhani)

यह जगह सुखदेवपुरा नोहर के नजदीक स्थित है। यहां आकर आप राजस्थान की संस्कृति को करीब से जान सकते हैं।
आपको यहां परंपरागत राजस्थानी नृत्य-संगीत के साथ खानपान भी मिलेगा। इसके अलावा आप यहां ऊंट की सवारी, कठपुतली कला का भी आनंद ले सकते हैं। महिलाएं यहां मेंहदी भी लगवा सकती हैं।

इस किले से गायब हो गई थी पूरी बारात  

रॉयल गैटोर (Royal Gaitor)

यह स्थल दरअसल शाही परिवारों के समाधि स्थल के रूप में जाना जाता है, जो शहर के नाहरगढ़ किले से के निचले भाग पर बना है। शहर के मध्य भाग के यहां तक की दूरी काफी कम है। इस स्थान पर महाराजा माधो सिंह द्वितीय, प्रताप सिंह और महाराजा जय सिंह के स्मृति चिह्न भी बने हुए हैं। यह जयपुर के चुनिंदा खास देखे जाने वाले स्थलों में गिना जाता है, जिसके निर्माण में संगमरमर का इस्तेमाल किया गया है। इस स्थान को रॉयल गैटोर के नाम से जाना जाता है।

सिटी पैलेस (City Palace)

सिटी पैलेस जयपुर का फेमस स्थल है, इसे सवाई जय सिंह ने बनवाया था। महल परिसर में चंद्र महल ,दीवाने -ए -खास ,महारानी पैलेस ,मुबारक महल ,गोविन्द देव जी का मंदिर ,प्रीतम निवास चौक आदि शामिल है। चंद्र महल को अब संग्रहालय में बदल दिया गया है। यहां की वास्तुकला को देखकर आप मंत्रमुग्ध हो जाएंगे।

Trimbakeshwar में एक साथ करें त्रिदेवों के दर्शन

नाहरगढ़ किला (Nahargarh Palace)

इस किले का नाम पहले सुदर्शनगढ़ किला था ,लेकिन ऐसा कहा जाता है कि जब यह किला बना रहा था तब राजा नाहर सिंह की आत्मा निर्माण कार्य को देख रही थी। इसलिए इस किले का नाम बदलकर नाहरगढ़ रख दिया गया। बॉलीवुड की फिल्म ‘रंग दे बसंती’ और ‘शुद्ध देशी रोमांस ‘ के कुछ सीन्स इसी किले में फिल्माए गए हैं।

रामगढ़ लेक (Ramgarh Lake)

यह एक मानवनिर्मित लेक है जो जमवा रामगढ़ के पास स्थित है। यह जयपुर से 32 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। बरसात के समय यह लेक पूरी तरह से भर जाती है , जिससे यह जयपुर के लोगों के लिए मुख्य पिकनिक स्पॉट बन जाता है।

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.