गोवा सरकार की पर्यटन बढ़ाने की दिशा में पहल

2

देश-विदेश से लोग घूमने के लिए गोवा आते हैं| गोवा में पर्यटन को बढ़ावा देने की दिशा में गोवा सरकार ने पहल शुरू कर दी है। गोवा सरकार ने हेरिटेज टूरिज्म सर्किट बनाने की दिशा में काम करना शुरू कर दिया है। गोवा सरकार द्वारा इन सर्किट्स के माध्यम से राज्य की ऐतिहासिक धरोहरों को प्रदर्शित किया जाएगा। गोवा में प्रतिवर्ष हजारों सैलानी आते हैं, जो जानकारी के अभाव में यहां के ऐतिहासिक स्थलों तक नहीं पहुंच पाते। इसी वजह से गोवा सरकार अब इन ऐतिहासिक स्थलों के लिए टूरिज्म सर्किट बनाने जा रही है।

इस बारे में जानकारी देते हुए एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि ज्यादातर पर्यटकों को यहां की ऐतिहासिक धरोहरों व यहां के पर्यटन स्थलों के बारे में जानकारी नहीं होती। सरकार यह चाहती है कि यहां आने वाले पर्यटकों को इन ऐतिहासिक स्थलों की जानकारी मुहैया कराई जाए ताकि सभी पर्यटकों को इन स्थलों को घूमने का मौका मिल सके।

गोवा सरकार इन सर्किट्स को गोवा पर्यटन विकास निगम की सहायता से बनाएगी। वहीं एक अन्य अधिकारी ने मीडिया को बताया कि सप्तकोटेश्वर मंदिर और कुछ अन्य ऐतिहासिक स्थलों को शामिल करके पहला सर्किट बनाया जाएगा। इस सर्किट में कई गुफाएं, झरने और मंदिरों को शामिल किया जाएगा।

गौरतलब है कि सप्तकोटेश्वर मंदिर का निर्माण छत्रपति शिवाजी द्वारा सन 1668 में किया गया था। यह ऐतिहासिक मंदिर गोवा की राजधानी पणजी से 35 किमी की दूरी पर स्थित है। अधिकारी ने अपनी जानकारी में कहा कि इन ऐतिहासिक स्थलों के बारे में जानकारी के लिए जगह-जगह साइन बोर्ड भी लगाए जाएंगे ताकि पर्यटकों को आसानी हो सके। यह पर्यटन को बढ़ाने की दिशा में एक अच्छा कदम साबित होगा।

Share.