कलिम्‍पोंग एक सुन्दर पर्यटक स्थल

0

बर्फ से ढकी चोटियों वाला यह स्‍थान, भारत के पश्चिम बंगाल राज्‍य में एक सुंदर से हिल स्‍टेशन पर क्षितिज पर स्थित है। कलिम्‍पोंग (Kalimpong Tourism) पर्यटन का सबसे बड़ा तथ्‍य यह है कि यह राजसी हिल स्‍टेशन समुद्र तल से 4000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है और यहां ताजा शुद्ध हवा चलती है जो आने वाले हर पर्यटक की छुट्टियों को शानदार बना देती है और यहां पर्यटक बार – बार आना चाहते है।

सोमनाथ मंदिर की पवित्र यात्रा 

सीधे शब्‍दों में कहें तो कलिम्‍पोंग (Kalimpong Tourism) एक ऐसी जगह पर स्थित है जहां आपको पश्चिम बंगाल की परम्‍परा देखने को मिलती है, वहां की संस्‍कृति, भोजन, के साथ – साथ लोगों का बौद्ध मठ के प्रति झुकाव, आपको कभी नहीं भूलने देता है कि आप हिमालय की तलहटी पर महाभारत पर्वतमाला के बीच में है।

प्रकृति प्रेमियों के लिए कलिम्‍पोंग में बहुत सारी खास चीजें है जैसे – क्‍लाउडेड लियोपार्ड, रेड पांडा, साइबेरियन बीजल, बार्किंग डीयर। इस शहर में पक्षियों की भी विस्‍तृत विविधता देखी जा सकती है। अगर आप प्रृकति के और करीब जाना चाहते है तो शहर में स्थित नेओरा राष्‍ट्रीय उद्यान या ऋषि बंकिम चंद्र पार्क की सैर भी एक दिन में कर सकते है।

यहां की भूमि पर चीड़ के पेड़ सबसे ज्‍यादा होते है और यह स्‍थान एक आदर्श पिकनिक स्‍थल है। कलिम्‍पोंग में पाएं जाने वाले आर्किड सारी दुनिया में निर्यात किए जाते है जो आपकी गर्लफ्रैंड, पति या पत्‍नी को खुश कर सकते है। सांस्‍कृतिक रंग में रंगे हुए दो स्‍थल है लेपचा संग्रहालय या जांग ढोल पालरी पोडांग मठ, ये दोनों ही स्‍थल शहर के केंद्र से एक किमी. की दूरी पर स्थित है।

कोई मायने नहीं रखता है कि आपको पर्यटन में क्‍या चाहिए, कलिम्‍पोंग (Kalimpong Tourism) में सारी उम्र के लोगों के लिए कुछ खास है। यह सिलीगुडी के पास में स्थित है जिससे पर्यटक यहां तक आसानी से सैर के लिए आ सकते है। इस शहर की सैर में कई सुंदर दृश्‍य भी देखने को मिलते है। कलिम्‍पोंग में सभी जगहों पर ब्राडबैंड नेट की जरूरत नहीं पड़ती है, यहां जगह – जगह पर, होटलों आदि में हाई – स्‍पीड इंटरनेट चलता है जिसका फायदा पर्यटक आसानी से उठा सकते है।

कलिम्‍पोंग का मौसम- गर्मी और वंसत, कलिम्‍पोंग के सबसे अच्‍छे मौसम होते है। इस दौरान यहां के स्‍थानीय निवासियों के लिए सबसे ज्‍यादा रोजगार का समय होता है। कलिम्‍पोंग, भारत और नेपाल के बीच का सबसे महत्‍वपूर्ण व्‍यापार जंक्‍शन है। कलिम्‍पोंग, भारत और चीन के लिए भी व्‍यापार जंक्‍शन का काम करता है। कलिम्‍पोंग पूरे क्षेत्र में एक शिक्षा हब भी है जहां शहर और आसपास के इलाके के बच्‍चे पढ़ने आते है। कलिम्‍पोंग में मौसम का बदलाव बेहद खास होता है, यहां की गर्मियां और सर्दियां, ज्‍यादा और कम रहती है और पर्यटकों के लिए एक सुखद मौसम को बनाती है। मानसून के दिनों में कलिम्‍पोंग (Top Places To Visit In Kalimpong) की यात्रा न ही करें। कलिम्‍पोंग के स्‍थानीय लोग, ज्‍यादातर नेपाली है जो भारत की आजादी से पहले नौकरी खोजने की तलाश में यहां आकर बस गए थे। कलिम्‍पोंग के लोग खुले दिमाग के होते है, खुश रहते है और कई त्‍यौहारों का आनंद उठाते है। यहां मनाएं जाने वाले प्रमुख त्‍यौहार दीवाली, दशहरा और क्रिसमिश है। कलिम्‍पोंग, भारत का एक ऐसा स्‍थान है जहां देश की संस्‍कृति देखने को मिलती है। यहां की स्‍थानीय जनता में विभिन्‍न प्रकार के लोग निवास करते है, उसके वाबजूद भी भारत की विशाल संस्‍कृति के दर्शन यहां होते है। यहां की यात्रा के दौरान लेपचा संग्रहालय और जींग ढोक पालरी पोडांग मंदिर की सैर अवश्‍य करें।

ऐतिहासिक सिटी पैलेस जयपुर

कलिम्‍पोंग (Top Places To Visit In Kalimpong) का भोजन- भोजन के मामले में, कलिम्‍पोंग सबसे आगे है। यहां के लाजवाब स्‍थानीय भोजन जैसे – मोमोज, चिकन, बीफ, पोर्क या सब्‍जी वाली डिश आदि का स्‍वाद आप सड़क किनारे लगे स्‍टॉल पर उठा सकते है। थुपका यहां की नुडल्‍स आधारित डिश है जिसे सर्दियों के दौरान बनाया जाता है। चुरपी एक स्‍थानीय डिश है जिसे याक के दूध से बनाया जाता है जिसे स्‍टोर करके रखा जाता है। भोजन के साथ – साथ आप यहां द‍ार्जिलिंग की चाय की चुस्कियां भी उठा सकते है, जो आपके अंदर ताजगी भर देती है।

कलिम्‍पोंग में गोल्‍फ गोल्‍फ- के शौकीन लोगों के लिए कलिम्‍पोंग में कुछ खास है। यहां 18 होल्‍स वाला गोल्‍फ कोर्ट है। गोल्‍फर्स का मानना है कि कलिम्‍पोंग का गोल्‍फ ग्रांउड, दुनिया का सबसे अच्‍छा गोल्‍फ कोर्स है। इस गोल्‍फ कोर्स की देखभाल, भारतीय सेना द्वारा की जाती है।

कलिम्‍पोंग (Top Places To Visit In Kalimpong) तक कैसे पहुंचे- कलिम्‍पोंग, सिलीगुडी से राज्‍य राजमार्ग 31 के रास्‍ते पर पास में ही स्थित है, यहां से सड़क के एक घंटे के सफर के बाद आप आसानी से कलिम्‍पोंग पहुंच सकते है। सिलीगुडी एयरपोर्ट से टैक्‍सी भी आसानी से मिल जाती है, पर्यटक चाहें तो कार की भी बुकिंग कर सकते है और कलिम्‍पोंग तक की यात्रा आसानी से कर सकते है।

(इंटरनेट के माध्यम से प्राप्त जानकारी )

रुमटेक मठ की पवित्र यात्रा

-Mradul tripathi

Share.