प्लास्टिक की कैद में दुनिया

0

आधुनिक समाज में प्लास्टिक मानव-शत्रु के रूप में उभर रहा है। समाज में फैले आतंकवाद से तो छुटकारा पाया जा सकता है, किंतु प्लास्टिक से छुटकारा पाना अत्यंत कठिन है। गृहोपयोगी वस्तुओं से लेकर कृषि, चिकित्सा, भवन-निर्माण, विज्ञान सेना, शिक्षा, मनोरंजन, अंतरिक्ष, अंतरिक्ष कार्यक्रमों और सूचना प्रौद्योगिकी आदि में प्लास्टिक का उपयोग हो रहा है। आज हर व्यक्ति को प्लास्टिक मुक्त भविष्य की चाह है परंतु आज यह हमारे दैनिक उपयोग की वस्तु बन गया है| इस मुद्दे पर कार्टूनिस्ट का नजरिया|

 

 

Share.