काश राम भी वोटर होते…

0

देश में सरकार सबसे पहले उनकी बात करती है जो वोटर होते हैं| ऐसे मतदाताओं को सरकार में आने के लिए नेता चुनाव से पहले प्रलोभन देते हैं, कई बड़े वादे करते हैं और चुनाव के बाद शायद थोड़ी बहुत परेशानी भी दूर कर देते हैं| लेकिन शायद किसी भी राजनैतिक  दल को इन दिनों राम से मतलब नहीं है| मतलब तब जरूर होता है जब घोषणापत्र में उनका नाम इस्तेमाल करना होता है, लेकिन इसके बाद राम अपने तम्बू में और नेता एसी कमरों में मस्त हो जाते हैं|

Share.