बदल जाएगा कसम खिलाने का तरीका

0

वर्तमान समय सोशल मीडिया का युग है|यहां फेसबुक, ट्विटर जैसे सोशल नेटवर्क हैं और सेल-फोन्स पर टेक्स्ट मैसेजिंग का सर्वत्र बोलबाला है। कार्टूनिस्ट का मानना है कि इस तरह चलता रहा तो ऐसा समय आएगा जब अदालत में गीता की जगह मोबाईल एप्स की कसम खिलाई जाएगी| इस पर उनकी चुटीली नज़र|

Share.