website counter widget

election

क्या है ड्रामा, आग में घी डाल रहे लामा…

0

267 views

तिब्बती धर्मगुरु दलाईलामा ने कहा कि महात्मा गांधी मोहम्मद अली जिन्ना को भारत का पीएम बनाना चाहते थे, लेकिन जवाहरलाल नेहरू नहीं माने। यदि नेहरू इनकार नहीं करते तो भारत का विभाजन नहीं होता। भारत-पाकिस्तान एक देश होता। उन्होंने कहा कि यदि मोहम्मद अली जिन्ना भारत के प्रधानमंत्री बनते तो देश का बंटवारा नहीं होता। इस मुद्दे पर कार्टूनिस्ट का नज़रिया|

Share.