website counter widget

 

भूख से बचने का एक ही ‘आधार’

0

आधार कार्ड एक तरफ खोए लोगों को मिलाने में मददगार साबित होता है तो वहीं दूसरी तरफ कई लोगों की परेशानी का सबब भी बन रहा है। मध्यप्रदेश के गुना जिले में सरकारी कंट्रोल की दुकान से राशन नहीं मिलने की वजह से 78 साल की एक महिला को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इससे पहले झारखंड में भी राशन न मिल पाने के कारण भूख से एक बच्ची की मौत हो गई थी। आधार कार्ड न होने से  राशन न मिल पाने के कारण अब तक 25 जानें जा चुकी हैं| इस मुद्दे पर कार्टूनिस्ट का नज़रिया|

Share.