मुफ्ती से ब्रेकअप, सत्ता से प्यार

0

पिछले कुछ वर्षों से जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती घाटी में देश विरोधी घटनाओं को अंजाम देने वालों के पक्ष में खड़ी होती दिखाई देती थी और केंद्र की सरकार मौन थी क्योंकि काश्मीर में महबूबा की सरकार भाजपा और पीडीपी के गठबंधन से बनी थी| अब भाजपा ने चुनाव के मद्देनज़र यह गठबंधन तोड़ने का ऐलान कर दिया है, ताकि उनकी छवि देशभक्त की बनी रहे| इस मुद्दे पर कार्टूनिस्ट का नज़रिया|

Share.