बाबाओं की गोद में मामा !

0

प्रदेश के मुखिया शिवराजसिंह चौहान अब भाजपा की नीति का निर्वहन करते हुए संत राजनीति की राह पर निकल चुके हैं| संतों द्वारा किए जाने वाले विरोध से बचने के लिए शिवराजसिंह चौहान ने उन्हें अपनी टीम में शामिल कर लिया और राज्यमंत्री का दर्जा दे दिया|इस मुद्दे पर कार्टूनिस्ट का नजरिया|

Share.