विकास और विश्वास की रोजगार से कट्टी है

0

विकास और विश्वास के नाम देश की सत्ता हासिल करने वाले पीएम मोदी अधिकांश मुद्दों पर फिसड्डी साबित हुए हैं रोजगार का तो भान ही नहीं उनके भाषणों में कभी रोजगार शब्द सुनने को नहीं मिला

Share.