लो आ गए अच्छे दिन

0

गेहूं को छोड़कर सभी आवश्यक खाद्य पदार्थों की औसत खुदरा कीमतों में पिछले एक साल में जोरदार तेजी आई है. पिछले एक साल में आलू का भाव 92 फीसदी उछल गया. इसके अलावा पिछले साल के मुकाबले प्याज की कीमतें 44 फीसदी चढ़ गईं. खाने-पीने की महंगाई दर सरकार के लिए काफी चिंता का विषय बनकर उभरी है. हालांकि, विशेषज्ञों का कहना है कि यह अस्थायी है और आपूर्ति में सुधार से कीमतों में गिरावट आएगी

Share.