राजनीति के मारे भगवान बेचारे

0

ना राम को चैन ना रहीम को आराम
राजनीति के चक्कर में दर -दर भटक रहा ख़ुदा
ठोकर खा रहा भगवान

Share.