काश! नेताओं के वादों में पेट्रोल होता और हम उसी से स्कूटर चलाते

0

देश में दो ही चीज बढ़ रही है मोदी सरकार के झूठे वादें और पेट्रोल डीजल के भाव . मगर इस विपदा में अवसर हो सकता था यदि नेताओं के वादों में पेट्रोल होता और हम उसी से स्कूटर चला लेते …….

नसीब वाले मोदी की बदनसीबी

Share.