मंदिर का पानी और मुस्लिम की प्यास

0

सामाजिक दुरियां और द्वेष अब इस कदर गहरा गया है कि मंदिर के जल से मुस्लिम की प्यास बुझाना भी अपराध है!

Share.