लॉक अनलॉक मे उलझी जिंदगी

0

अभी एक-एक प्रवासी मजदूर अपने घर पहुंचा भी नहीं था कि सरकार ने लाक डाउन हटाने का फैसला लिया, ऐसे में मजदूर परिवार इस असमंजस में है कि रोटी कहां मिलेगी, उस गांव में जहां वे कई साल बाद बसने जा रहे हैं या उस शहर में जिसे वे पीछे छोड़ आए

Share.