नेता बन के सब पाप धूल जाते हैं

0

बिहार विधान सभा चुनाव में भी प्रत्याशियों के चयन में राजनीतिक दलों पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के निर्देशों का कोई प्रभाव पड़ता नहीं दिखा. चुनाव सुधार के लिए कार्य करने वाली संस्था एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (ADR) द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक पहले चरण के कुल 1064 प्रत्याशियों में से 328 यानि कि 31 प्रतिशत प्रत्याशियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. इनमें से 244 यानि कि 23 प्रतिशत के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं.

Share.