X

दूषित पानी से ग्रामीणों का हुआ यह हाल

0

88 views

हमारे शरीर के 75 प्रश हिस्से में पानी शामिल है| पानी हमारे शरीर के लिए कितना लाभकारी है, यह तो हम सभी अच्छी तरह से जानते हैं| हमेशा स्वस्थ बने रहने के लिए हमें साफ पानी पीना चाहिए, लेकिन यदि हम साफ़ पानी नहीं पीते हैं तो यही पानी हमारे लिए जहर बन जाता है| हाल ही में एक मामला सामने आया है, जहां एक गांव के लोग हैंडपंप का पानी पीने से आंशिक रूप से दिव्यांग हो गए|

यह मामला झारखंड के पाकुड़ इलाके के पाकुडिया प्रखंड के सोलगे गांव का है| खबर के अनुसार, यहां अभी तक  50 से अधिक लोग आंशिक रूप से दिव्यांग हो चुके हैं| हैंडपंपों से निकलने वाला प्रदूषित पानी लगातार पीकर ग्रामीण टेढ़ेपन और कुबड़ेपन जैसी बीमारी के शिकार हो गए हैं|

इस मामले को लेकर ग्रामीणों ने बैठक की, जिसमें स्थानीय विधायक स्टीफन मरांडी भी मौजूद थे| बैठक के बाद विधायक ने पेयजल स्वच्छता विभाग के कर्मचारियों ने गांव के हैंडपंपों के पानी का सैम्पल लिया और जांच में जुट गए हैं| फिलहाल, गांव के लोगों ने हैंडपंप का पानी पीना छोड़ दिया है|  अब उन्हें तीन किमी दूर से पीने का पानी लाना पड़ रहा है|

Share.
31