यह प्यार सिर्फ एक दिखावा है, पब्लिसिटी स्टंट है

0

ना उम्र की सीमा हो ना जन्म का हो बंधन, जब प्यार करे कोई तो देखे केवल मन…

जगजीत सिंह की आवाज़ में जब भी यह गीत सुना जाता है या गुना जाता है तो इस गीत के बोल सहसा ध्यान आकर्षित कर लेते हैं। कम ही गीत होते हैं, जिनके बोल कुछ गहन अर्थ रखते हैं। आजकल ऐसे गीतों की भरमार हो चली है, जिसमें धुन बनाने के बाद उटपटांग शब्द डाल दिए जाते हैं, जिससे गीत की उम्र महज कुछ दिन रह जाती है। जगजीत सिंह ने जिस समर्पण के साथ यह गीत गाया है, उससे इस गीत में उनके प्राणों का एक अंश भी आ चुका है। अकेले में कभी यह गीत सुना जाए, तब इसके शब्द जादू की तरह काम करते हैं।

खैर, आज की बात जगजीत सिंह और इस गीत पर आगे न बढ़ाते हुए मुद्दे पर आ जाते हैं कि जब से सलमान खान का बिग बॉस फिर से शुरू हुआ है, लोग भजन सम्राट अनूप जलोटा को याद करने लगे हैं। वजह आप सभी जानते ही हैं कि 65 वर्षीय भजन गायक ने इस शो में अपनी प्रेमिका जसलीन मथारू के साथ एंट्री की है। जसलीन उम्र में जलोटा से 37 साल छोटी हैं। शो की शुरुआत में ही जिस अंदाज़ में दोनों सबके सामने पेश आए, उससे देश में एक बार फिर यह चर्चा चल पड़ी है कि दो प्रेमियों के बीच इतना अंतर होना क्या सही है? यह प्यार है या सिर्फ आकर्षण या फिर कहीं यह सुर्खियां बटोरने का स्टंट मात्र तो नहीं ?

जब से भजन सम्राट के इस रिश्ते का खुलासा हुआ है, तब से वे सोशल मीडिया में सबके निशाने पर आ गए हैं। यहां लोग उन्हें ठरकी, रसिक और बेशर्म की उपाधि दे रहे हैं तो जसलीन को पब्लिसिटी की भूखी बताया जा रहा है। वैसे जिस शो में शामिल होने ये दोनों आए हैं, उसका ट्रैक रिकॉर्ड यही कहता है कि प्रसिद्धि, पैसों की दौड़ और शो में विजयी होने के लिए यहां प्रतियोगी तमाम दैहिक और नैतिक सीमाएं लांघ जाते हैं। अनूप जलोटा भी उम्र के इस पड़ाव पर फिर से चर्चा का केंद्र बनकर शायद थोड़ी सुर्खियां बटोर लेना चाहते हैं। वैसे दोनों को देखने पर लगता नहीं कि दोनों में कोई सच्चा प्रेम हुआ होगा।

जलोटा ने एक साथी, सहारे और सच्चे प्यार के रूप में जसलीन को पसंद किया होगा, ऐसी उम्मीद कम है तो जसलीन ने भी आसानी से प्रसिद्धि पाने के लिए ही जलोटा को चुना होगा। सोचने वाली बात है कि जसलीन यदि जलोटा की प्रेमिका न होती तो कौन उन्हें बिग बॉस में बुलाता? अनूप जलोटा भी जसलीन से इस रिश्ते की वजह से ही इस शो में बुलाए गए हैं। नहीं तो देश में बुजुर्ग भजन गायकों की कोई कमी है क्या? शो में लोगों को उत्सुकता पैदा करने के लिए जलोटा और जसलीन की जोड़ी चैनल वालों को बिल्कुल सही लगी। देश की जनता भी जिस तरह से जलोटा पर चर्चा कर रही है, उससे चैनल को अपना फैसला सही साबित हो रहा होगा। जितनी इज्जत जलोटा ने जिंदगीभर भजन गाकर कमाई है बिग बॉस के घर में कुछ दिन बिताकर वे सारी इज्जत तार-तार कर लेंगे, लेकिन जसलीन के पास खोने को कुछ नहीं है।

एक बार सुर्खियों में आने के बाद उन्हें कई ‘जलोटा’ मिल जाएंगे और यह भी हो सकता है कि इस शो के बीच ही जसलीन कहीं और दिल लगा ले क्योंकि इस शो में कुछ भी नामुमकिन नहीं है। भजन सम्राट और जसलीन इस बिग बॉस के घर में क्या गुल ख़िलाते हैं, इसे देश आंखें गड़ाकर देखने को बेकरार है, लेकिन यह तय है कि इस बार शो में बेशर्मी, फूहड़ता और मर्यादा की सारी हदें पार कर दी जाएंगी। न उम्र की सीमा और न जन्म का बंधन वाला प्यार इन दोनों का हैं या नहीं, यह बात आगे आने वाले दिनों में सब खुद ही जान जाएंगे। यह प्यार सिर्फ एक दिखावा है, पब्लिसिटी स्टंट है, जिसे देश की जनता चटखारे लेकर देख रही है। मनोरंजन के इस नए रूप को जनता पसंद भी भरपूर कर रही है। देखना यह है कि जलोटा और जसलीन का ‘प्यार’ बिग बॉस के घर में कितने दिन और टिक पाता है?

-सचिन पौराणिक

Share.