Talented View : …तो आतंकी आंख उठाकर देखने से भी डरेंगे

0

हिन्दू मान्यताओं के अनुसार, किसी की मौत का मातम 12 दिन तक मनाया जाता है, जिसके बाद सभी अपने जीवन को दोबारा जीना शुरू करते हैं। ये 12 दिन निश्चित तौर पर बेहद दु:खभरे गुज़रते हैं, जीवनभर इस कमी को पूरा नहीं किया जा सकता है, लेकिन इसके बाद जिंदगी पुनः पटरी पर आने लगती है।

Talented View : अपराधियों को तुरंत फांसी हो

14 फ़रवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के वीर जवानों पर हुए कायराना हमले के ठीक 12 दिन बाद भारत ने पाकिस्तान को ऐसा सबक सिखाया है, जिसे वह कभी भुला नहीं पाएगा। 12 दिन के शोक के बाद आज पूरा देश खुशी से फूला नहीं समा रहा है क्योंकि पुलवामा के गुनहगार नर्क में पहुंच चुके हैं।

अलसुबह भारतीय वायुसेना द्वारा की गई इस कार्रवाई में जैश के ठिकानों पर भीषण बमबारी की गई। पाक के बालाकोट, चकोटी और मुजफ्फराबाद के आतंकी अड्डों पर भारत के मिराज 2000 विमानों ने बम बरसाकर सैकड़ों आतंकियों को मौत की नींद सुला दिया। पाकिस्तान इस हमले के बारे में कुछ समझ पाता या जवाबी कार्रवाई करता, उससे पहले भारत के विमान तबाही मचाकर वापस देश की सीमा में चले आए। पाक सेना खुद स्वीकार कर रही है कि उनके वायुक्षेत्र का उल्लंघन किया गया है और तबाही की तस्वीरें भी जारी की गई हैं। 14 फरवरी के बाद से सेना की जो मूवमेंट शुरू हुई,  अर्धसैनिक बलों की छुट्टियां निरस्त कर दी गईं और कश्मीर में जिस तरह जवानों की तैनाती बढ़ाई गई, उससे संकेत यही मिल रहे थे कि भारत इस बार कुछ बड़ा करने वाला है।

Talented View : पाकिस्तान और आतंकवादियों की बर्बादी का इंतज़ार

प्रधानमंत्री मोदी के शब्दों पर जनता को विश्वास था और यही वजह थी कि 14 फरवरी से लेकर अब तक हर दिन देश इस उम्मीद में सुबह टीवी चालू करता था कि बदले की कोई खबर मिले। आज सुबह भारतीय सेना ने देश को खुशखबर सुनाई और पूरा देश आज एक अलग ही गर्व की अनुभूति कर रहा है।

पाकिस्तान के परमाणु शक्ति के दावे कितने खोखले हैं, इससे साबित होता है कि भारत उनके घर में घुसकर उन्हें मार रहा है और वह कुछ नहीं कर पा रहा है। पाक जैसे भिखारी मुल्क को उसकी सही औकात दिखाने का श्रेय निश्चित रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। मोदी के बदले वाले बयान के बाद से ही पाक थर-थर कांपने लगा था। 14 फरवरी के बाद से जिस तरह भारत के लोग हर सुबह उठकर पाक पर कार्रवाई का इन्तज़ार कर रहे थे, उसी तरफ पाक के आतंकवादी हर रात सोने से पहले सुबह जिंदा उठने की दुआएं मांग रहे थे। उन्हें यह पता था कि मोदी ने कहा है तो बदला किसी भी सूरत में लिया ही जाएगा। इमरान खान, पाकिस्तान सेना और आतंकवादियों को अब यह समझ आ गया होगा कि जब भारत उन्हें मारेगा तो दुनिया का कोई देश उन्हें बचाने नहीं आएगा। आतंक की कीमत उन्हें खुद ही चुकानी होगी। पाक को खुद पर शर्म आनी चाहिए कि वह कैसा परमाणु देश है, जो हमेशा भारत की मार खाता आया है।

मोदीजी के विदेश दौरों का मज़ाक उड़ाने वाले घरेलू नेता भी यह समझ लें कि उनके अंतरराष्ट्रीय संबंधों और कुशल कूटनीति का ही कमाल है कि कोई देश भारत की कार्रवाई का विरोध नहीं कर रहा है। पिछली बार सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगने वाला विपक्ष इस बार खबर आने के साथ ही देश की सेना को बधाई देने में लग गया है।

Talented View : आतंकियों को न पालें, सीधे मार दें

विपक्ष यह भी समझ रहा है कि पाकिस्तान के बहाने ही सही, लेकिन 2019 उनके हाथ से फिसल चुका है। देशभक्ति की आंधी और पाकिस्तान को सबक सिखाने के जज़्बे के बीच अब कोई अन्य मुद्दा मायने नहीं रखेगा। देश अब ऐसी कार्रवाइयां लगातार चाहता है क्योंकि पाकिस्तान अपनी हरकतें आसानी से नहीं छोड़ने वाला। ऐसे ही लगातार कार्रवाई हम आतंकियों पर करते रहेंगे तो दुनिया में हमारी छवि ‘सॉफ्ट स्टेट’ से बदलकर इज़राइल जैसी हो जाएगी। इसके बाद आतंकी हमारी तरफ आंख उठाकर देखने से भी डरेंगे।

भारतीय सेना के शौर्य को हमारा नमन..!

-सचिन पौराणिक

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.