Talented View : दया के लायक नहीं पाकिस्तान

0

कश्मीर में धारा 370 हटने के साथ ही पाकिस्तान बौखला गया है। पाकिस्तान की संसद में इस विषय पर लंबी चर्चा हुई। भारत को जवाब देने की आतुरता के बीच कई तरह की बातें पाकिस्तानी संसद में सुनने को मिली, लेकिन आश्चर्य इस बात पर हुआ कि भारत पर आक्रामकता दिखाने के लिए पाकिस्तान खुद का नुकसान करने में भी पीछे नही हट रहा है। पाकिस्तान ने कश्मीर से धारा 370 हटाने (Article 370 Remove) के विरोध में भारत से व्यापारिक रिश्ते तोड़ दिए और राजदूत को भी वापस बुलाने का फैसला कर लिया है।

Talented View  : मुश्किल में कांग्रेस का वजूद!

इससे पहले पाक संसद में सवालों से झल्लाए इमरान ने पूछ लिया कि आप मुझसे आख़िर क्या चाहतें है? हम हिंदुस्तान पर हमला कर दें क्या? इमरान की बेचारगी तब भी जाहिर हुई जब उन्होंने कहा कि वो वैश्विक नेताओं से इस बारे में मदद मांग रहे हैं। पाकिस्तान की संसद में धारा 370 हटने से उधलपुथल मची हुई है और पक्ष-विपक्ष दोनों समझ नही पा रहे हैं कि हालातो से कैसे निपटा जाए? महंगाई, गरीबी, अशिक्षा और भुखमरी से जूझ रही पाक की जनता को क्या समझाया जाए ये वहां के हुक्मरान समझ नही पा रहे हैं।

पाकिस्तान ने भले ही भारत के साथ व्यापार बंद कर दिया है लेकिन उसकी असल चिंता कुछ और है। भारत के साथ व्यापार न होने से भारत की सेहत पर कोई असर नही होगा, लेकिन पाकिस्तान दाने-दाने को तरस सकता है। पाक की चिंता दरअसल ये है कि कश्मीर के मुद्दे पर विश्व का कोई देश उसके साथ खड़ा होने को तैयार नही है। मुस्लिम देश तक कश्मीर पर भारत के रुख के साथ है। इधर अमेरिका के दो प्रभावशाली सांसदों ने पाक को चेताया है कि भारत पर बदले की कार्यवाही करने से बचे।

Talented View : अनुच्छेद 370 मुक्त कश्मीर

भारत की सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक के बाद पाक इतना डर गया है कि वो परमाणु हमले का नाम लेने में भी हिचक रहा है। बात-बात पर परमाणु हमले की धमकी देने वाली पाक सेना अब भीगी बिल्ली की तरह व्यवहार कर रही है। भारत से सीधे टकराने की बजाय अब वो बैट (बॉर्डर एक्शन टीम) और मुजाहिदों पर ही निर्भर हो चुके हैं। भारत पर गुस्सा दिखाने के लिये पाक ने अपने तीन हवाई क्षेत्र भी प्रतिबंधित कर दिए हैं। भारत को इससे थोड़ा नुकसान हो सकता है लेकिन कश्मीर पर पाक को जो जख्म मिला है उसकी कोई भरपाई नही है।

इस बीच इस्लामाबाद और लाहौर में लगे ‘अखंड भारत’ के पोस्टर भी पाकिस्तान की चिंता बढ़ाने वाले हैं। बलूचिस्तान और गिलगिट की जनता में पाक के प्रति पनप रहा असन्तोष भी पाक के घबराने की बड़ी वजह है, लेकिन हमारे लिए सुकून इस बात का है कि भारत की सेनाएं पाक के हर नापाक इरादे को नेस्तनाबूद करने के लिए मुस्तैद है। पाकिस्तान से जुड़ी सभी अंतरराष्ट्रीय सीमाओं पर फौज़ की तैनाती बढ़ा दी गयी है। पाक भारत पर बड़ी सैन्य कार्यवाही करना चाहता है लेकिन इसके अंजाम को देखते हुए वो शांति रखने पर मजबूर है।

Talented View : क्या कश्मीर मे कुछ बड़ा होने वाला है ?

वैसे पाक में भुखमरी के जैसे हालात है उनसे उसे कोई उबार सकता है तो वो भारत ही है। लेकिन भारत लगातार ठोकरें खाकर ये समझ चुका है कि ये मुल्क दया के लायक नही है। एक देश के तौर पर पाकिस्तान इस समय सबसे मुश्किल दौर से गुज़र रहा है। वहां की जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। भीख मांगकर देश चला रहे पाक के सत्ताधीशों को समझना चाहिये की भिखारियों को कभी तेवर नही दिखाने चाहिये। पाकिस्तान जिसे व्यापार समझता है वो एक तरह की भीख है जो दुनिया के देश तरस खाकर उसे देते हैं। इस भीख को ही व्यापार समझने वाले पाकिस्तान की इस नादानी भरी सोच पर सिर्फ हंसा ही जा सकता है।

Share.