website counter widget

image1

image2

image3

image4

image5

image6

image7

image8

image9

image10

image11

image12

image13

image14

image15

image16

image17

image18

Talented View : जनता है कि समझने को तैयार ही नहीं है

0

अक्सर कहा जाता है कि जब तक दुनिया में मूर्ख जिंदा हैं, तब तक समझदार कभी भूखे नहीं मरेंगे। बात बिल्कुल सही है बल्कि इससे एक कदम आगे बढ़कर यह कहना चाहिए कि जब तक मूर्ख जिंदा है समझदार भूखे मरने की छोड़िये, जमकर ऐश करेंगे। बल्कि यूं कहना चाहिए कि वे ऐश कर ही रहे हैं। देशभर में रोज़ ही खबरें आती रहती है कि फलां कंपनी निवेशकों के करोड़ो रूपये लूटकर गायब हो गई। लेकिन इन खबरों को लगातार पढ़ने के बाद भी जनता है कि समझने को तैयार ही नहीं है। ऐसा ही राजनीति में भी है। जब तक मूर्ख वोटर कायम हैं, तब तक नेता मौज करते ही रहेंगे। नेता इस देश की जनता को दशकों से मूर्ख बनाते आ रहे हैं, लेकिन जनता है कि समझने को तैयार ही नहीं है। हर बार नेता नए वादे लाते हैं और जनता फिर झांसे में आ जाती है।

Talented View : सेना और कलाकार करें मोदी पर प्रहार

खैर, बात चल रही है उन फ़र्ज़ी कम्पनियों की, जो जनता को मूर्ख बनाती हैं। कल हुआ यूं कि शहर में ‘कुलकर्णी फाइनेंस’ नाम की एक कंपनी पर अचानक ताले लग गए। यह कंपनी निवेशकों को 7% महीने का रिटर्न दिया करती थी, जो बढ़ते-बढ़ते 15% तक पहुंच गया था। जब देश की नामी बैंकों की ब्याज दर 6.5 से 7.5 वार्षिक चल रही हो, तब 15% महीने के हिसाब से रिटर्न देना नामुमकिन ही था, लेकिन जनता के लालच का क्या किया जाए?  पढ़े-लिखे नौजवानों से लेकर नौकरीपेशा, व्यापारी, दुकानदार और सरकारी कर्मचारियों ने इस कंपनी में मुक्तहस्त से निवेश किया। स्वाभाविक तौर पर शुरुआत में कुछ लोगों ने पैसा कमाया, जिससे कंपनी लोगों का भरोसा जीत सके, लेकिन जब लोगों ने करोड़ों रूपए जमा कर दिए तो एक दिन कंपनी और उससे जुड़े लोग रातोंरात गायब हो गए। जिनके भरोसे पर पैसे लगाए थे, उनके मोबाइल बंद आ रहे थे।

Talented View : राहुल पर पड़ी लेज़र से विपक्ष में फिकर

इस कंपनी में पैसे लगाने वालों में मेरे वे करीबी रिश्तेदार भी शामिल थे, जो अपने आप को सबसे ज्यादा समझदार समझते थे। जो खुद को लालच से कोसों दूर बताते थे और म्युचुअल फंड तक खरीदने में घबराते थे। उन्होंने ‘कुलकर्णी’ में लाखों रुपए निवेश कर रखे थे। पैसा दोगुना-तिगुना करने के इस लालच में वे कब मूर्ख बन बैठे, उन्हें खबर ही नहीं लगी। अब जबकि कंपनी फरार हो गई है तो वे कहते दिखाई दे रहे हैं कि उन्हें कोई खास नुकसान नहीं हुआ। ये ठीक वैसे ही है जैसे कोई जेल जाकर आता है तो सबको यही कहता है कि वहां कोई दिक्कत नहीं हुई। वहां उसकी इतनी खातिर की गई मानो वह जेल नहीं ससुराल जाकर आया हो। सोचने जैसी बात है कि कोई भी समझदार शख्स इन फ़र्ज़ी कंपनियों के जाल में आखिर कैसे फंस जाता है? इसका जवाब है-लालच। लालच में आदमी इतना अंधा हो जाता है की उसे सच मे कुछ नहीं दिखाई देता। लालच आदमी को आसमानी वादों पर भी यकीन करने को मजबूर कर देता है। लालच के सुरूर में न दिमाग काम करता है न बुद्धि।

‘कुलकर्णी’ में पैसा लगाने वालों में एक बड़ी संख्या में बैंक कर्मचारी भी शामिल हैं। जिन लोगों को ‘अर्थ’ का जानकार समझा जाता है, उनके असल हालात ऐसे है। कई सेवानिवृत्त कमर्चारियों ने अपनी जीवनभर की पूंजी कुलकर्णी में लगा दी और अब आंसुओं से सराबोर हो रहे है।

इस फ़र्ज़ी कंपनी की चर्चा आज इसलिए की गई है क्योंकि अभी चुनावों में ऐसे आसमानी वादे चारों तरफ सुनाई दे रहे हैं । अपने आप को समझदार समझने वाले लोग भी इन वादों का आसानी से शिकार बन सकते हैं। 15 लाख हो चाहे 72 हजार, जनता समझ ले कि मुफ्त में एक रुपया भी कोई पार्टी किसी को नहीं देने वाली। ऐसे आसमानी वादे सिर्फ जनता को मूर्ख बनाने के लिए होते हैं। एक बार मूर्ख बनने के बाद पछतावे की सिवाय कुछ हाथ नहीं लगता है। कुलकर्णी जैसी कंपनियां और हवाई वादे करने वाले नेता एक समान ही है। जनता को बहुत सोच-समझकर मतदान करने की ज़रूरत है अन्यथा मूर्ख बनने के पूरे चांस हैं।

Talented View : देश के उज्ज्वल भविष्य के लिये अपना वोट जरूर डालें

बिना किसी लालच में आए सिर्फ ‘ट्रैक रिकॉर्ड’ देखकर ही इस बार वोट डालना होगा। जिन ज्यादा समझदारों ने लालच में आकर कुलकर्णी जैसी कंपनी में अपने पैसे लुटाए, उनसे किसी को सहानुभूति नहीं होती। अपनी हालत के जिम्मेदार ये लोग स्वयं हैं। इस बार का चुनाव भी देश के लिए निर्णायक है इसलिए जनता को सजग रहने की ज़रूरत है। कुलकर्णी जैसी कंपनियां और हवाई नेता आपको ठगने के लिए तैयार बैठे हैं। बाकी कुलकर्णी में पैसे लगाने वाले मेरे अत्यधिक समझदार रिश्तेदारों के बारे में यही कहा जा सकता है कि- “जिसे कोयल समझा था वो कव्वा निकला, दोस्ती की बातों का भी हव्वा निकला, कल तक जो थे शराब के खिलाफ, आज उन्ही की जेब से पव्वा निकला..”

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
Loading...
Share.