Talented View : खुश होने की एक बड़ी वजह

0

मोदी सरकार के पहले आम बजट में कहा गया था कि जनता को अब थोड़ी कड़वी दवाई पीने के लिए तैयार होना पड़ेगा। जनता ने भी देशहित के नाम पर कड़वी दवाई बिना किसी नखरे के पी, लेकिन इसके बाद लगातार हर बजट में कड़वी दवाई ही जनता को मिली| अब चूंकि चुनावी साल आ गया है और इस बार की कड़वी दवाई सरकार की सेहत पर असर डाल सकती थी इसलिए इस बार कड़वी दवाई को चाशनी में डुबोकर जनता के सामने पेश करने की कोशिश की गई है। वर्तमान सरकार का आखिरी बहुप्रतीक्षित बजट आज पेश हो गया।

Talented View : इन्हें अपना सेनापति बदल ही देना चाहिए

जैसा कि उम्मीद थी वैसा ही कुछ यह बजट दिखाई भी दे रहा है। मध्यम वर्ग के छोटे करदाता को ऐतिहासिक छूट देते हुए इनकम टैक्स की सीमा को सरकार ने 5 लाख कर दिया है। इसका मतलब यह हुआ कि महीने के 40-42 हजार तक कमाने वाले को भी अब कोई टैक्स नहीं देना होगा। मध्यम वर्ग के लिए यह रियायत किसी अजूबे से कम नहीं क्योंकि देखा जाए तो इन पांच सालों में पहली बार मध्यम वर्ग के बारे में सोचा गया है। महिलाओं, किसानों सहित हर वर्ग को खुश करने की कोशिश इस बजट में की गई है।

Talented View : वादे पूरे किए होते तो…

शेयर मार्केट भी बजट से गुलज़ार हो रहा है। कुल मिलाकर जनता को “फील गुड” करवाने की कोशिश इस बजट में की गई है। बजट को अच्छी तरह से समझने के बाद ही कुछ विस्तार से प्रतिक्रिया दी जा सकती है, लेकिन इससे सरकार की मंशा ज़रूर साफ हो गई है। इस चुनावी साल में जनता को खुश करने और वोट लेने में सत्तापक्ष कोई कसर नहीं छोड़ने वाला है। यह बजट जनता के मूड पर कितना असर डालेगा, यह वक्त ही बताएगा, लेकिन मध्यम वर्ग को अभी खुश होने की एक बड़ी वजह आज ज़रूर मिल गई है|

-सचिन पौराणिक

Talented View : फिर चुनाव के समय याद आने लगे राम

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.