X

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा….

0

82 views

अयोध्या का राम मंदिर मामला इन दिनों चर्चा में बना हुआ है| सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को इस मामले पर सुनवाई की| इस दौरान कोर्ट ने कहा कि हम किसी को नहीं कह सकते कि समझौता करो और किसी को समझौता करने से इनकार भी नहीं कर सकते| अब इस मामले में अगली सुनवाई 23 मार्च को होगी|

कोर्ट ने आगे कहा कि यदि दोनों पक्षों के वकील खुद आकर कहें कि हमने समझौता कर लिया है तो हम मुद्दे को रिकॉर्ड कर लेंगे| समझौते के लिए हम न तो किसी से कह सकते हैं और न किसी को नियुक्त कर सकते हैं| इसी के साथ कोर्ट ने उन सभी याचिकाओं को खारिज कर दिया, जो ऑरिजिनल वादियों या प्रतिवादियों की तरफ से दायर नहीं की गई थी।  इनमें भाजपा नेता सुब्रहमण्यम स्वामी, अपर्णा सेन, श्याम बेनेगल और तीस्ता सीतलवाड़ की याचिका भी शामिल थी| कोर्ट ने कुल 32 याचिकाओं को ख़ारिज किया है|

मामले की सुनवाई के दौरान स्वामी ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि उनके मूल अधिकार उनकी संपत्ति से जुड़े अधिकारों से बड़े हैं| हालांकि सुप्रीम कोर्ट स्वामी की उस अन्य याचिका पर फिर सुनवाई के लिए तैयार हो गया, जिसमें बीजेपी नेता ने अयोध्या के राम मंदिर में पूजा करने को अपना मूल अधिकार बताते हुए इस अधिकार को लागू कराने की मांग की है|

Share.
31