बाजार में हाहाकार, आखिरी दिन भी डूबे करोड़ों रुपए

0

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा ब्याज दरें घटाए जाने का असर घरेलू बाजार पर देखने को नहीं मिला। रिजर्व बैंक द्वारा रेपो रेट घटाए जाने के बाद भी आज बाजार (Share Market) में गिरावट दर्ज की गई। इस कारोबारी हफ्ते के आखिरी दिन यानी आज 4 अक्टूबर शुक्रवार को घरेलू बाजार में 433 अंकों की गिरावट दर्ज की गई है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का 30 शेयरों वाला वाला प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स आज के दिन के कारोबार में 433 लुढ़क गया। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के 50 शेयरों वाले प्रमुख सूचकांक निफ़्टी में 139 अंकों की गिरावट दर्ज की गई।

Share Market Today Report : शेयर बाजर में गिरावट जारी

आज के दिन के कारोबार के दौरान सेंसेक्स में 433 अंको की गिरावट आ जाने से सेंसेक्स 37,673 के स्तर पर जाकर बंद हुआ। जबकि निफ़्टी 139 अंक गिरकर 11,174 के स्तर पर पहुंच कर बंद हुआ। विश्लेषकों का मानना है कि RBI द्वारा GDP ग्रोथ अनुमान घटाने की वजह से ही बाजार में गिरावट दर्ज की गई है। भारतीय शेयर बाजार में आखिरी एक घंटे के दौरान निवेशकों के 1.47 लाख करोड़ रुपए डूब गए। बाजार में आज आखिरी एक घंटे के दौरान तेज गिरावट देखने को मिली। विश्लेषक बताते हैं कि RBI की तरफ से ग्रोथ का अनुमान घटाने की वजह से बाजार में आखिरी घंटे में जबरदस्त तेजी की स्थिति निर्मित हुई। उन्होंने कहा कि ऊपरी स्तर से सेंसेक्स 650 अंक फिसलकर बंद हुआ।

गांधी जयंती के मौके पर घरेलू बाजार बंद

गौरतलब है कि इस पूरे कारोबारी हफ्ते के दौरान सेंसेक्स में 2.98 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है जबकि निफ़्टी में 2.95 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। BSE के मिडकैप इंडेक्स की बात की जाए तो इस कारोबारी हफ्ते के दौरान इसमें 4.3 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा वित्त वर्ष 2019-20 के लिए GDP ग्रोथ रेट का अनुमान 6.9 फीसदी से घटाकर 6.1 फीसदी कर दिया गया है। इससे पहले अगस्त माह में RBI ने यह अनुमान 7.0 फीसदी से घटाकर 6.9 फीसदी किया था। अब इस अनुमान को इससे भी घटाया गया है जिसका असर आज शेयर बाजार पर साफ़ तौर पर देखने को मिला।

शेयर बाजार में भारी गिरावट, डूबे 1.69 लाख करोड़ रुपए

Prabhat Jain

Share.