लगातार चौथे दिन बाजार में तेज़ी

0

बाजार में लगातार चौथे सत्र में तेजी देखने को मिली। ऊपरी स्तरों पर दबाव के बावजूद निफ्टी 10,400 के ऊपर टिकने में कामयाब रहा। बाजार में मजबूती चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के भाषण से अमरीका और चीन के बीच कम हुई व्यापार युद्ध की संभावना से आई। वहीं सरकार द्वारा किसानों को अपने उत्पादन चीनी मिलों को बेचने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने की खबर से चीनी शेयरों में काफी तेजी दर्ज की गई।

सेंसेक्स और निफ्टी 0.25 फीसदी की बढ़त के साथ बंद हुए। आज निफ्टी 10,424 तक पहुंचा था, जबकि सेंसेक्स ने 33,950 तक दस्तक दी थी। अंत में निफ्टी 10,400 के ऊपर बंद होने में कामयाब हुआ, जबकि सेंसेक्स 33,900 के पास बंद हुआ। बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 92 अंक यानि 0.25 फीसदी की उछाल के साथ 33,880 के स्तर पर बंद हुआ। एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 23 अंक यानि 0.25 फीसदी की तेजी के साथ 10,402 के स्तर पर बंद हुआ।

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में आज सुस्ती देखने को मिली। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.2 फीसदी बढ़कर बंद हुआ, जबकि निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में भी 0.2 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स सपाट होकर बंद हुआ।

बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 92 अंक यानि 0.25 फीसदी की उछाल के साथ 33,880 के स्तर पर बंद हुआ। एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 23 अंक यानि 0.25 फीसदी की तेजी के साथ 10,402 के स्तर पर बंद हुआ।

बैंकिंग, आईटी, मेटल, फार्मा, रियल्टी, कैपिटल गुड्स और पावर शेयरों में खरीदारी देखने को मिली। बैंक निफ्टी 0.5 फीसदी की मजबूती के साथ 25,227 के स्तर पर बंद हुआ। हालांकि आज ऑटो और फार्मा शेयरों में दबाव नजर आया।

-टीम ट्राइफिड

Share.