भारत के गेंदबाजी कोच के लिए नया नाम आया सामने…

0

भारतीय टीम वेस्टइंडीज के दौरे पर है और यहां टीम तीन टी-20 मैचों के सीरीज के शुरुआती दो मुकाबले अपने नाम कर चुकी है| सीरीज का अंतिम मैच आज यानी 6 अगस्त को खेला जाएगा| इसके बाद भारतीय टीम को यहां वनडे और टेस्ट सीरीज भी खेलना है| इसी के साथ भारतीय टीम के मुख्य कोच, बॉलिंग कोच, फील्डिंग कोच को लेकर भी आवेदन आना शुरू हो गया है| उम्मीद की जा रही है कि रवि शास्त्री ही भारतीय टीम के मुख्य कोच के पद पर बने रहेंगे|

India vs West Indies : बारिश के कारण खतरे में मैच, जानें मौसम का हाल

वहीं बॉलिंग कोच, फील्डिंग कोच और बल्लेबाजी कोच का बदलाव लगभग तय है| भारत के बॉलिंग कोच के लिए एक नया नाम सामने आ रहा है| भारतीय टीम के पूर्व स्पिनर रहे चुके सुनील जोशी ने भी इस बाद के लिए आवेदन किया है| उनका मानना है कि, विराट कोहली के नेतृत्व वाली टीम को स्पिन विशेषज्ञ की जरूरत है|

साउथ अफ्रीका के दिग्गज खिलाड़ी का संन्यास, देखें करियर के आंकड़े

जोशी ने कहा, “हां, मैंने आवेदन (गेंदबाजी कोच के लिए) किया है| बांग्लादेश के साथ ढाई साल के सफल कार्यकाल के बाद मैं अगली चुनौती के लिए तैयार हूं| भारतीय टीम के साथ लंबे समय से कोई स्पिन गेंदबाजी कोच नहीं है और ऐसे में मुझे लगता है मेरी विशेषज्ञता पर विचार होगा|’’

उन्होंने कहा, “यदि आप देखेंगे तो ज्यादातर अंतरराष्ट्रीय टीमों के साथ विशेषज्ञ सहयोगी सदस्य रहते हैं| चाहे वह तेज गेंदबाजी कोच हो या स्पिन गेंदबाजी कोच| भारतीय टीम को भी ऐसी जरूरत है| यह जरूरी नहीं है कि मैं रहूं या कोई और, लेकिन टीम को इसकी जरूरत है|”

आर्टिकल 370 ख़त्म होने पर भड़के Shahid Afridi, कहा…

बता दें कि, जोशी ने 1996 से 2001 के बीच भारतीय टीम के लिए 15 टेस्ट में 35.85 की औसत से 41, जबकि 69 एकदिवसीय में 36.36 की औसत से 69 विकेट लिए हैं| कर्नाटक के इस दिग्गज ने प्रथम श्रेणी के 160 मैचों में 25.12 की औसत से 615 विकेट लिए है| वे बांग्लादेश को गेंदबाजी की कोचिंग दे चुके हैं|

Share.