US ओपन चैंपियन में दानिल मेदवेदेव को हराकर राफेल नडाल ने जीता 19वां ग्रैंडस्लैम

0

स्पेनिश स्टार खिलाडी राफेल नडाल ने रूस के दानिल मेदवेदेव को कड़े फाइनल मुकाबले में हराकर यूएस ओपन का खिताब अपने नाम कर लिया। करीब 5 घंटे तक चले मुकाबले में नडाल ने मेदवेदेव को 7-5, 6-3, 5-7, 4-6, 6-4 से शिकस्त देकर अपने करियर का 19वां ग्रैंडस्लैम खिताब अपनी झोली में डाला। दुनिया के नंबर-2 खिलाड़ी नडाल को पांचवें वरीय दानिल मेदवेदेव के खिलाफ जीतने के लिए कड़ा संघर्ष करना पड़ा।

टिम पेन ने अचानक लिया ऐसा फैसला और जीत गई ऑस्ट्रेलिया टीम

दुनिया के सबसे बड़े टेनिस स्टेडियम, न्यूयॉर्क के आर्थर अशे में खेले गए रोमांचक फाइनल मुकाबले में नडाल ने रूस के डेनिल मेदवेदेव को पांच सेट के मुकाबले में शिकस्त देकर अपना 19वां ग्रैंड स्लैम खिताब जीता।

15 सितंबर को पहला टी-20 मैच, देखें Ind vs SA का पूरा कार्यक्रम

इससे पहले उन्होंने सेमीफाइनल में इटली के मातेओ बेरेतिनी को 7-6 (8/6), 6-4, 6-1 से हराया था। यह खिताब जीतने के बाद नडाल स्विस स्टार रोजर फेडरर के सर्वकालिक पुरुष रिकॉर्ड से सिर्फ एक ट्राफी दूर रह गए हैं। उन्होंने सत्र के शुरू में कूल्हे की चोट के बाद वापसी करते हुए 12वां फ्रेंच ओपन खिताब हासिल किया था।


नडाल अब फेडरर, पीट सम्प्रास और जिमी कोनोर्स के यूएस ओपन के रिकॉर्ड से महज एक खिताब पीछे हैं जिन्होंने यहां 5 ट्रोफियां हासिल की हैं। मेदवेदेव 23 साल की उम्र में पहली बार ग्रैंडस्लैम फाइनल में पहुंचे थे और पिछले छह हफ्तों में काफी अच्छा (मैचों में जीत का रेकॉर्ड 20-2) खेल रहे हैं जिसमें वॉशिंगटन और कनाडा में उप विजेता रहना और सिनसिनाटी में खिताब जीतना तथा यहां अमेरिकी ओपन में फाइनल तक पहुंचना शामिल है।

Video : दर्शक ने वॉर्नर को दी गाली, फिर ऐसे दिया करारा जवाब…

इसके अलावा राफेल नडाल ने यूएस ओपन के साथ ही 2005 से 2008, 2010 से 2014 और 2017 से 2019 तक फ्रेंच ओपन के मेन्स सिंगल्स की ट्रॉफी अपने नाम की है.

-मृदुल त्रिपाठी

Share.