X
website counter widget

election

सेमीफाइनल : इंग्लैंड दे सकती है क्रोएशिया को मात

0

97 views

बेल्जियम की टीम को मात देकर फ्रांस की टीम फीफा विश्वकप के फाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बन गई है, वहीं आज विश्वकप में इंग्लैंड और क्रोएशिया के बीच दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला खेला जाएगा| इंग्लैंड की टीम 28 वर्ष बाद सेमीफाइनल मैच खेलने उतरेगी| इंग्लैंड ने एकमात्र विश्वकप वर्ष 1966 में जीता था| वहीं अंतिम बार वर्ष 1990 में विश्वकप सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई थी| क्रोएशिया की बात की जाए तो टीम 20 वर्ष बाद सेमीफाइनल में जगह बनाने में कामयाब हो पाई है| दोनों टीमों के बीच यह आज भारतीय समयानुसार 11:30 बजे से खेला जाएगा|

दूसरा सेमीफाइनल इंग्लैंड बनाम क्रोएशिया

दोनों टीमें लंबे समय बाद सेमीफाइनल में जगह बनाने में कामयाब हो पाई है| फाइनल में पहुंचने के लिए दोनों ही टीमें एड़ी-चोटी का जोर लगा देंगी| यह पहला मौका है, जब दोनों टीमें वर्ल्ड कप में आमने-सामने हैं| इससे पहले ये दोनों टीमें कभी भी विश्वकप में एक साथ नहीं खेली| दोनों ही फ़ाइनल में पहुंचने का दम रखती हैं| इंग्लैंड की टीम पूरी तरह कप्तान हैरी केन पर निर्भर है|

क्रोएशिया ने की मजबूत शुरुआत

क्रोएशिया ने सेमीफाइनल तक का सफ़र बेहद ही शानदार प्रदर्शन के साथ किया है| उसने नॉकआउट राउंड में डेनमार्क और रूस के खिलाफ पेनल्टी शूटआउट में जीत दर्ज कर सेमीफाइनल  में जगह बनाई| वहीं उसने ग्रुप स्टेज में अपने तीनों मैच में जीत दर्ज की थी| क्रोएशिया ने अपने पहले मैच में नाइजीरिया को 2-0 से हराया था। इसके बाद उसने अर्जेंटीना को 3-0 और आइसलैंड को 2-0 से शिकस्त दी थी|

इंग्लैंड का सफ़र

इंग्लैंड की टीम ने भी इस विश्वकप में शानदार प्रदर्शन किया है| इंग्लैंड ने 5 मैचों में 4 जीत और 1 हार के साथ सेमीफाइनल में जगह बनाई| इंग्लैंड ने ग्रुप स्टेज के अपने पहले मैच में ट्यूनीशिया को 2-1 से हराया था| इसके बाद इंग्लैंड ने पनामा को 6-1 और बेल्जियम को 1-0 से हराया था| इसके बाद नॉकआउट राउंड में उसने पेनल्टी शूटआउट की मुश्किल को पार किया और कोलंबिया को 4-3 और इसके बाद क्वार्टर फाइनल में स्वीडन को 2-0 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई|

इंग्लैंड और क्रोएशिया की मजबूती

कप्तान हैरी केन इंग्लैंड की टीम को मजबूती देते हैं और अकेले के दम पर टीम को जीत दिला सकते हैं| हैरी केन अब तक इस विश्वकप में 6 गोल दाग चुके हैं और गोल्डन बूट की रेस में सबसे आगे हैं| वहीं क्रोएशिया की बात की जाए तो इंग्लैंड की टीम को क्रोएशिया के मिडफील्डर लुका मोडरिक से सबसे अधिक खतरा है| लुका मोडरिक अपने साथी खिलाड़ी इवान रेकिटिक और इवान पेरिसिक के साथ मिलकर टीम का मिडफील्ड संभाल रहे हैं|

Share.
7