पृथ्वी शॉ की धमाकेदार वापसी, जड़ा तूफानी दोहरा शतक

0

भारतीय टीम का उभरता सितारा पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw Double Century) का नाम एक बार फिर से क्रिकेट जगत की हेडलाइन बन गया है| रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के पहले ही मुकाबले में उन्होंने दोहरा शतक जमाकर बता दिया है कि वे भारतीय टीम में वापसी करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं| उन्होंने बड़ोदा (Baroda) के खिलाफ मुंबई के लिए खेलते हुए दोहरा शतक जमाया| उनकी इस पारी के दम पर मुंबई मैच के तीसरे दिन ही जीत के करीब आ गयी है| मुंबई (Mumbai) के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने दूसरी पारी में महज 175 गेंदों पर दोहरा शतक जमाया|

Cricket Diary : क्यों आंखों के नीचे काला स्टीकर लगते थे शिवनारायण चंद्रपॉल

इससे पहले मैच की पहली पारी में उन्होंने अर्धशतक जमाया था| उन्होंने 62 गेंदों पर ताबड़तोड़ 66 रनों की पारी खेली थी| पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने 179 गेंदों की पारी में 202 रन बनाए| प्रथम श्रेणी क्रिकेट में यह उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर है| बड़ोदा के गेंदबाज भार्गव भट्ट ने पृथ्वी का विकेट हासिल किया|

Cricketers Shradhanjali For Arun Jaitley : क्रिकेटर्स ने दी Arun Jaitley को भावपूर्ण श्रद्धांजलि

आठ महीने के प्रतिबंध के बाद वापसी की है| डोप टेस्ट में फेल होने की वजह से बीसीसीआई (BCCI) ने पृथ्वी शॉ ((Prithvi Shaw 8 Month Ban)  पर आठ महीने का बैन लगाया था| उन्हें प्रतिबंधित पदार्थ टर्ब्यूटलाइन के सेवन का दोषी पाया गया था|

Prithvi Shaw

Prithvi Shaw (Mumbai Batsman) Big Comeback, Stormy Double Century

Prithvi Shaw (Mumbai Batsman) Big Comeback, Stormy Double Century

 

कई लोगों ने तो यह तक कह दिया था कि अब इस खिलाड़ी का करियर ख़त्म हो चुका है, लेकिन टीम इंडिया का यह पोस्टर बॉय एक बार फिर से अपने शानदार प्रदर्शन से चयनकर्ताओं के कान खड़े कर दिए हैं| बैन लगने के बाद शॉ ने अपन बयान में कहा था कि उन्होंने खांसी के लिए कफ सिरप लिया था, जिससे ये पदार्थ उनके शरीर में पहुंच गया| प्रतिबंध हटने के बाद पृथ्वी शॉ ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (Syed Mushtaq Ali Trophy) में मुंबई (Mumbai) की ओर से मैच खेले थे| इस टूर्नामेंट में भी उनका प्रदर्शन शानदार रहा था|

T-20 Cricket : गौतम ने पहले जड़ा तूफानी शतक, फिर लिए 8 विकेट

-Hriday Kumar

Share.