धोनी के संन्यास पर बोले शास्त्री, बताई वजह…

0

इंग्लैंड के खिलाफ 3 वनडे सीरीज़ में अंतिम मुकाबले में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा था| भारतीय टीम ने इंग्लैंड दौरे की शुरुआत टी-20 सीरीज़ में जीत के साथ की थी, लेकिन टीम ने वनडे सीरीज को 2-1 से गवां दिया| सीरीज के पहले मुकाबले में भारतीय टीम ने शानदार जीत दर्ज की थी, लेकिन दो मुकाबलों में टीम को हार का सामना करना पड़ा| इस हार के साथ भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्रसिंह धोनी के संन्यास की चर्चा भी सोशल मीडिया पर हुई|

पिछले दो मुकाबलों में महेंदसिंह धोनी ने धीमी पारी खेली, जिस वजह से सोशल मीडिया पर धोनी का काफी मज़ाक उड़ाया गया| दूसरे वनडे में धोनी ने 59 गेंदों में 37 रनों की बेहद धीमी पारी खेली थी| वहीं तीसरे वनडे में भी धोनी संघर्ष करते दिखे| धोनी ने 66 गेंदों में 42 रन बनाए, जिस वजह से टीम इंग्लैंड के सामने बड़ा लक्ष्य खड़ा करने में कामयाब नहीं हो पाई|

महेंद्रसिंह धोनी के संन्यास पर शास्त्री

भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री ने सोशल मीडिया पर महेंद्रसिंह धोनी के संन्यास की हो रही चर्चा पर लगते हुए कहा कि, “यह बकवास है, धोनी कहीं नहीं जा रहे हैं|” इसी के साथ शास्त्री ने धोनी द्वारा अंपायरों के हाथ से गेंद लेने की घटना की वजह को भी बताया है| बता दें कि इस घटना का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसके बाद ही धोनी के संन्यास लेने की चर्चा शुरू हुई थी|

इस घटना पर शास्त्री ने कहा, एमएस धोनी गेंदबाजी कोच को गेंद दिखाना चाहते थे| वह उन्हें गेंद इसलिए दिखाना चाहते थे, जिससे यह पता चल सके कि परिस्थितियां कैसी थीं|

टेस्ट से लिया था महेंद्रसिंह धोनी ने संन्यास

वर्ष 2014 में धोनी ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था| संन्यास लेने के बाद धोनी ने कहा था कि अब वे वनडे और टी-20 पर ज्यादा ध्यान देना चाहते हैं, इस वजह से वे टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले रहे हैं| धोनी के वनडे और टी-20 करियर पर नज़र डाली जाए तो उन्होंने अब तक 321 वनडे और 93 टी-20 मुकाबले खेले हैं| वनडे में धोनी ने 51.25 के औसत से 10046 रन बनाए हैं| वहीं 93 टी-20 में उन्होंने 37.17 के औसत से 1487 रन बनाए हैं|

Share.