धोनी से जुड़े यादगार किस्से और रिकॉर्ड

0

क्रिकेट जगत के सबसे शातिर खिलाड़ी और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्रसिंह धोनी की काबिलियत से हर कोई वाकिफ है| हारे हुए मुकाबले को किस तरह जीतना है और बड़ी टीमों को किस तरह से शिकस्त देना है यह धोनी को बखूबी आता है| मैदान पर धोनी की होशियारी, उनका शांत स्वभाव और उनके बेहतरीन खेल का ही नतीजा है कि आज भारत के पास दो विश्वकप हैं| आज धोनी अपना 37वां जन्मदिन मना रहे हैं| इस अवसर पर हम आपके लिए धोनी से जुड़े कुछ ऐसे किस्से लेकर आए हैं जो शायद ही आपको पता हो| माही को उनके शांत स्वभाव की वजह से ‘कैप्टन कूल’ कहा जाता है, लेकिन कई बार उनका गुस्सैल रवैया भी देखा गया है|

जब पत्रकार पर भड़के धोनी

एक बार धोनी मैच के बाद हुई मीडिया वार्तालाप के दौरान एक भारतीय पत्रकार पर भड़क उठे थे| पत्रकार का सवाल धोनी को रास नहीं आया और उन्होंने गुस्से में पत्रकार को जवाब दिया और उसकी बोलती बंद कर दी| वर्ष 2016 में खेले गए टी-20 विश्व कप में बांग्लादेश के खिलाफ भारतीय टीम ने 1 रन से रोमांचक जीत दर्ज की थी| इस मुकाबले के बाद एक पत्रकार ने भारतीय कप्तान धोनी से पूछा कि भारतीय टीम को बड़े अंतर से जीत दर्ज करनी थी, टीम हारते-हारते किसी तरह से जीत दर्ज कर पाई, क्या आप इस प्रदर्शन से खुश हैं?

धोनी ने पत्रकार को बीच में रोकते हुए कहा कि, मुझे पता है टीम की जीत से आपको ख़ुशी नहीं हुई| आपकी आवाज से, आपके टोन से, आपके सवाल से ऐसा लग रहा है कि आपको खुशी नहीं हुई है| धोनी ने आगे कहा, क्रिकेट की बात की जाए तो यह स्क्रिप्ट नहीं होता है, आपको ऐनालाइज करना होता है कि जिस विकेट पर हमने टॉस हारने के बाद बल्लेबाज़ी की थी कि क्या कारण था हम ज्यादा रन नहीं बना पाए। उन्होंने कहा कि अगर आप यह सभी बाहर बैठकर ऐनालाइज नहीं कर रहे हैं तो आपको यह सवाल नहीं पूछना चाहिए|

हुआ था ‘जादुई बल्ला’ नीलाम

हर भारतीय क्रिकेट प्रेमी को वह दिन याद है जब टीम के पूर्व कप्तान महेंद्रसिंह धोनी ने भारत को दूसरा विश्व कप जिताया था| वर्ष 2011 में श्रीलंका के खिलाफ महेंद्रसिंह धोनी ने छक्का मारकर इस विश्व कप को भारत के नाम किया था| मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस फाइनल मुकाबले में जीत दर्ज कर भारतीय टीम ने 28 वर्ष बाद विश्व कप जीतने का कारनामा किया था| इस मुकाबले में धोनी ने 99 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली थी| जिस बल्ले से धोनी ने छक्का लगाया था उस बल्ले को लंदन में एक लाख पाउंड यानी करीब 70 हजार रुपए में बेचा गया| नीलामी में जो राशी धोनी को मिली उस राशी को उन्होंने गरीब बच्चों की मदद के लिए ‘साक्षी फाउंडेशन’ को दान कर दिए| यह फाउंडेशन धोनी की पत्नी साक्षी चलाती हैं|

धोनी की उपलब्धियां

1 क्रिकेट वर्ल्ड कप

1 टी-20 वर्ल्ड कप

1 चैंपियंस ट्रॉफी

3 आईपीएल खिताब

2 चैंपियंस लीग टी-20 खिताब

9,967 वनडे रन और विकेट के पीछे 404 शिकार

4,876 टेस्ट रन और विकेट के पीछे 294 शिकार

1,487 टी-20 इंटरनेशनल रन और विकेट के पीछे 82 शिकार

Share.