website counter widget

लुका मोड्रिच ने जीता ‘बैलन डि ओर’ खिताब

0

फुटबॉल में क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनेल मेसी की बादशाहत अब खत्म होती नज़र आ रही है| फीफा अवॉर्ड सेरेमनी के बाद अब ‘बैलन डि ओर’ का खिताब भी दोनों खिलाड़ियों में से किसी के हाथ नहीं आया| इस बार इस  खिताब पर क्रोएशिया के लुका मोड्रिच ने कब्ज़ा जमाया| पहले 33 वर्षीय मोड्रिच को फीफा ने वर्ष का सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर चुना और अब उन्हें ‘बैलन डि ओर’ अवॉर्ड से नवाज़ा गया|

पिछले 10 वर्षों से अर्जेंटीना के स्टार खिलाड़ी लियोनेल मेसी और पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो ही इन अवॉर्ड्स को जीतते आ रहे थे, लेकिन इस वर्ष ये दोनों खिलाड़ी ही मंच पर नहीं दिखाई दिए| खिताब जीतने के बाद मोड्रिच ने कहा, “हो सकता है कि पिछले कुछ वर्षों में कुछ खिलाड़ियों ने ‘बैलन डी ओर’ खिताब जीते होंगे, लेकिन अब लोगों ने आखिरकार किसी अन्य खिलाड़ी पर नज़र डालना शुरू कर दिया है| यह पुरस्कार उन सभी खिलाड़ियों के लिए है, जो कहीं न कहीं इसे पाने के हकदार हैं, लेकिन उन्हें यह नहीं मिला| उनके लिए यह साल काफी खास है|”

गौरतलब है कि लुका मोड्रिच के नेतृत्व में क्रोएशिया टीम पहली बार फीफा वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची थी| इसके अलावा मोड्रिच ने रियल मैड्रिड को चैंपियंस लीग का खिताब दिलवाने में भी अहम योगदान दिया| हालांकि इस अवॉर्ड के लिए वर्ल्ड कप ट्रॉफी जीतने वाली फ्रांस की आधी टीम नामांकित थी, लेकिन उन सबको पछाड़ते हुए लुका ने यहां बाजी मार ली है|

पिछले 10 वर्षों में यह पहला मौका है, जब फीफा वर्ल्ड कप बेस्ट प्लेयर का अवॉर्ड अर्जेंटीना के मेसी या पुर्तगाल के रोनाल्डो को नहीं मिला| वर्ष 2007 में ब्राजील के काका फीफा ‘प्लेयर ऑफ द ईयर’ चुने गए थे| इसके बाद मेसी ने 2009, 2010, 2011, 2012 और 2015 में यह खिताब अपने नाम किया था, वहीं रोनाल्डो ने 2008, 2013, 2014, 2016, 2017 में यह खिताब अपने नाम किया है|

Share.