डे-नाइट टेस्ट, इस टीम से भारत की टक्कर

0

भारतीय क्रिकेट टीम ने अब तक गुलाबी गेंद से डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेला है| अब भारतीय टीम गुलाबी गेंद से टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए तैयार है| हाल ही में बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने यह बड़ी घोषणा की है| बांग्लादेश अगले महीने भारत का दौरा करने के लिए तैयार है| दोनों देशों के बीच 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी| सीरीज का पहला मैच इंदौर में 14 नवम्बर और दूसरा टेस्ट कोलकाता में 22 नवम्बर से खेला जाएगा| कोलकाता के ईडन गार्डन में खेला जाने वाला टेस्ट मैच गुलाबी गेंद से खेला जाएगा| टीम इंडिया का अपनी जमीन पर ये पहला डे-नाइट टेस्ट होगा|

बता दें कि, बीसीसीआई के नए कोच गांगुली ने इस टेस्ट को गुलाबी गेंद से खेलने का प्रस्ताव बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के सामने रखा था| बांग्लादेश पहले इस मुकाबले के लिए तैयार नहीं था, लेकिन बाद में बोर्ड मान गया| गांगुली ने कहा, “यह अच्छी पहल है| टेस्ट क्रिकेट को बढ़ावा देने की जरूरत है| मैं और मेरी टीम ने इसके लिए काफी मेहनत की| हम विराट का भी शुक्रिया करना चाहेंगे कि वह इसके लिए तैयार हुए|”

भारतीय क्रिकेटर लंबे समय से डे-नाईट टेस्ट मैच खेलने से बाख रहा था| कुछ दिनों से अटकले लगाईं जा रहीं थीं कि भारत गुलाबी गेंद से क्रिकेट खेलते हुए दिखाई दे सकता है और अब गांगुली ने यह साफ़ कर क्रिकेट फैन्स को बड़ी खुशख़बरी दी है| गांगुली ने शुक्रवार को कहा था कि कप्तान विराट कोहली दिन-रात टेस्ट खेलने के विचार से सहमत हैं और निकट भविष्य में इसका आयोजन हो सकता है|

इस टेस्ट मैच के दौरान अभिनव बिंद्रा, एमसी मेरीकोम और पीवी सिंधू जैसे दिग्गज ओलंपिक पदक विजेताओं को आमंत्रण कर उन्हें सम्मानित करने की योजना भी बनाई गई है| गांगुली चाहते है कि जिस तरह ऑस्ट्रेलिया में वार्षिक ‘पिंक टेस्ट’ का आयोजन होता है उसी तरह ईडन गार्डन में भी सालाना तौर पर दिन-रात्रि टेस्ट मैच का आयोजन हो|

-Hriday Kumar

Share.