शतक के बाद बोले पुजारा…

0

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन चेतेश्वर पुजारा ने शानदार शतक लगाकर कई कीर्तिमान बनाए| यह उनके करियर का 17वां शतक है| मैच के दूसरे दिन भारतीय टीम ने 443/7 पर अपनी पारी घोषित की| पुजारा ने 319 गेंदों में 10 चौकों की मदद से 106 रन की शानदार पारी खेली| ऑस्ट्रेलिया के इस दौरे पर अपना दूसरा शतक जड़ते हुए पुजारा ने कुछ महीनों पहले उन्हें टीम से बाहर करने की मांग करने वाले आलोचकों को करारा जवाब दिया है|

शतक जड़ने के बाद पुजारा ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह साफ़ किया कि वे आलोचकों को चुप करने के लिए नहीं खेलते| पुजारा ने कहा, “देखिए, जब मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलता हूं तो मैं किसी को खामोश नहीं करना चाहता हूं| मुझे सिर्फ रन बनाने की ज़रूरत है और मैं यही करना पसंद करता हूं| मैं इन सब बातों में नहीं पड़ना चाहता हूं|”

पुजारा ने कहा, “मेरा काम रन बनाना है और मैं ये करना जारी रखूंगा, फिर चाहे वह घर में हो या बाहर| कई बार आपकी आलोचना होती है और आपको इसे स्वीकार करना होगा, लेकिन यदि भारत जीतता रहता है, तो आखिरकार सब खुश हो जाते हैं|”

जब पुजारा से पुछा गया कि क्या वे विदेश में दो शतक जड़कर राहत महसूस कर रहे हैं| उन्होंने कहा, “नहीं कह सकता कि मैं राहत महसूस कर रहा हूं क्योंकि मैं हमेशा से जानता था कि मैं रन बना सकता हूं| यह शतक बनाना हमेशा से अच्छा होता है| हमेशा से यह माना जाता रहा है कि मैं घर में रन बनाता हूं| कई बार, चीजें बड़ी मुश्किल बन जाती है, खासतौर पर तब जब आप विदेशी दौरों पर होते हैं| एक बल्लेबाज के तौर पर विदेश में खेलना हमेशा चुनौतीपूर्ण होता है|”

पाकिस्तानी खिलाड़ी ने की डेल स्टेन की धुलाई

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.