IND vs ENG : अंतिम टेस्ट मैच में विराट सहित ये खिलाड़ी बनाएंगे रिकॉर्ड

1

भारतीय टीम का इंग्लैंड दौरा आज यानी शुक्रवार को शुरू हुए अंतिम टेस्ट मैच के साथ ही खत्म हो जाएगा| 5 मैचों की सीरीज के अंतिम मुकाबले में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है| भारतीय टीम चौथे टेस्ट में 60 हार के साथ ही सीरीज पहले ही 1-3 से गंवा चुकी है| अब टीम की कोशिश पांचवें टेस्ट में जीत के साथ इंग्लैंड को अलविदा कहने की होगी| ओवल में खेले जा पांचवें टेस्ट मैच में कई नए रिकॉर्ड बन सकते हैं|  आइए, एक नज़र डालते हैं इस टेस्ट में बनने वाले 7 बड़े रिकॉर्ड्स पर|

#1. भारत ने अब तक ओवल के मैदान पर 12 मैच खेले हैं और टीम को सिर्फ एक मैच में 1971 में जीत मिली थी जबकि इंग्लैंड ने इस मैदान पर 4 मैच जीते हैं| भारतीय टीम यदि पांचवां टेस्ट जीत जाती है तो यह उसकी ओवल मैदान पर 47 वर्षों में पहली जीत होगी|

#2.कप्तान कोहली इस टेस्ट सीरीज में अब तक 544 रन बना चुके हैं, जो दोनों टीमों की तरफ से सर्वाधिक है| कोहली को इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज में सर्वाधिक रन बनाने वाला बल्लेबाज बनने के लिए 88 रनों की ज़रूरत है| 88 रन बनाते ही वे  631 रन के साथ पाकिस्तान के मोहम्मद यूसुफ के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे| इसी के साथ कोहली 59 रन बनते ही इंग्लैंड में एक सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन जाएंगे| 602 रनों के साथ यह रिकॉर्ड राहुल द्रविड़ के नाम है|

#3. इशांत शर्मा को इंग्लैंड में सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाला भारतीय गेंदबाज बनने के लिए महज 4 विकेट की ज़रूरत है|  इशांत ने अब तक 11 मैचों में 40 विकेट लिए हैं और उनके पास कपिल देव को पीछे छोड़ने का मौका है| कपिल देव के नाम 43 विकेट हैं|

#4. स्टुअर्ट ब्रॉड को टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाला चौथा तेज गेंदबाज बनने के लिए महज 4 विकेट की ज़रूरत है|

#5. अपना आखिरी टेस्ट खेलने जा रहे एलेस्टेयर कुक का ओवल में 1000 टेस्ट रन पूरा करने के लिए एक रन की ज़रूरत है| वे दो मैदानों पर यह कारनामा करने वाले इंग्लैंड के तीसरे बल्लेबाज बन जाएंगे। इससे पहले उन्होंने लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान ये उपलब्धि हासिल की थी|

विराट कोहली की अगुआई में भारतीय टीम ने इस सीरीज में कई मौकों पर शानदार प्रदर्शन किया, लेकिन हर बार मैच पर पकड़ बनाने के बाद उन्होंने उसे हाथों से फिसल जाने दिया। यह टेस्ट मैच इंग्लैंड के सबसे सफल बल्लेबाज एलेस्टेयर कुक का आखिरी टेस्ट मैच होगा। 

ऐसे में इंग्लैंड की टीम जीत हासिल करते हुए कुक को यादगार विदाई देना चाहेगी। वहीं टीम इंडिया भी इस मैच को जीतकर एक साल में एशिया के बाहर सबसे ज्यादा तीन जीत के 1968 के मंसूर अली पटौदी के रिकॉर्ड की बराबरी करना चाहेगी।

Share.