Hyderabad Encounter: गौतम गंभीर ने दिया ऐसा बयान…

0

हैदराबाद सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के बाद पूरे देश में चारों आरोपियों को फांसी पर चढ़ाने की मांग की जार रही थी| लेकिन आज हैदराबाद पुलिस ने सभी चार आरोपियों का एनकाउंटर कर दिया| देश के आम लोग, सेलेब्रिटी और नेता जहां इस एनकाउंटर को सही बता रहे हैं और कुछ लोग इस पर सवालिया निशान उठा रहे हैं| पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी एनकाउंटर पर अपना बयान दिया है| उन्होंने कहा कि, यदि  आरोपित पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश कर रहे थे तो पुलिस ने जो किया वह गलत नहीं कहा जा सकता|

गौतम गंभीर बने आईपीएल टीम के मालिक!

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि, “देश में न्यायिक प्रणाली को सुधारने की जरुरत है| दुष्कर्म के मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट का फैसला अंतिम होना चाहिए| फांसी को रोकने के लिए कोई दया यायिका या अपील नहीं होनी चाहिए| यदि वे भागने की कोशिश कर रहे थे तो पुलिस ने सही कार्य किया| मैं पुलिस के साथ खड़ा हूं|

वहीँ एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने हैदराबाद एनकाउंटर को गलत बताया है| उन्होंने कहा, “मैं मुठभेड़ों के खिलाफ हूं| यहां तक कि राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने भी मुठभेड़ का संज्ञान लिया है|”

रेप के दोषियों को नहीं मिलेगी दया : राष्‍ट्रपति

उनके अलावा राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा, “एक आम नागरिक के तौर पर मैं खुश हूं कि उनका वह अंत हुआ है, जैसा हम लोग चाहते थे| लेकिन, ऐसा न्याय कानूनी सिस्टम के तहत होना चाहिए था| यह सही प्रक्रिया के तहत होना चाहिए था| हम हमेशा से उनके लिए मौत की सजा मांग रहे थे और यहां पुलिस सबसे अच्छी जज साबित हुई| मैं नहीं जानती कि आखिर किन परिस्थितियों में यह एनकाउंटर हुआ|”

भाजपा सांसद मेनका गांधी ने भी इस एनकाउंटर पर सवाल उठाए, उन्होंने कहा, “जो भी हुआ है, वह इस देश के लिए बहुत भयानक हुआ है| आप लोगों को इसलिए नहीं मार सकते क्योंकि आप ऐसा चाहते हैं| आप कानून अपने हाथ में नहीं ले सकते| उन्हें किसी भी तरह से कानून के जरिए ही सजा दी जानी चाहिए थी|”

कांग्रेस के दो सांसद मेरी ओर बाहें चढ़ाकर बढ़े: स्मृति ईरानी

-Hriday Kumar

Share.